सेंसेक्स ने 31 साल में 1 हजार से 60 हजार का मुकाम किया हासिल

 
Sensex achieved this milestone of 1 to 60 thousand in 31y
- नौ महीने की अवधि में 50 से 60 हजार का स्तर किया पार

नई दिल्ली, 24 सितंबर। देश के शेयर बाजार ने शुक्रवार, 24 सितंबर को इतिहास रच दिया। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स ने पहली बार 60 हजार का आंकड़ा पार लिया। दिनभर के कारोबार के बाद सेंसेक्स 163 अंक ऊपर 60,048 अंक के नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज एनएसई का निफ्टी भी 17,853 अंक चढ़कर बंद हुआ।

सेंसेक्स ने पहली बार शुरुआती कारोबार में 60 हजार के रिकॉर्ड स्तर को छुआ, जो एक ऐतिहासिक और यादगार यात्रा है। सेंसेक्स को 1 हजार से 60 हजार के स्तर तक पहुंचने में 31 साल से थोड़ा ज्यादा वक्त लगा। दिलचस्प बात यह है कि सेंसेक्स ने 2021 में ही 9 महीने की अवधि में 50 हजार और 60 हजार के दोनों स्तर को पार किया, जो कोविड-19 महामारी के संक्रमण के दौरान शेयर बाजार के लचीलेपन को दर्शाता है।

भारतीय शेयर बाजार के बीएसई का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स ने अपनी 60 हजार अंक तक पहुंचने की इस सफर के दौरान 1992 में हर्षद मेहता घोटाला का गवाह बना। उसके बाद 1993 में मुंबई और बीएसई की इमारत में विस्फोट, 1999 का कारगिल युद्ध, अमेरिका में आतंकी हमला और 2001 में भारतीय संसद पर आतंकी हमला, सत्यम घोटाला, वैश्विक वित्तीय संकट, नोटबंदी, पीएनबी घोटाला और कोविड-19 महामारी जैसे संकट को देखा है।

Sensex achieved this milestone of 1 to 60 thousand in 31y

पिछले कुछ वर्षों में 30 शेयरों पर आधारित शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक (सेंसेक्स) ने कई रिकॉर्ड बनाए है। सूचकांक पहली बार 6 फरवरी] 2006 को 10 हजार अंक पर पहुंचा था। इसके बाद 29 अक्टूबर, 2007 को इसने 20 हजार के स्तर को पार किया। लेकिन, इसके बाद 30 हजार तक पहुंचने में सेंसेक्स ने 7 साल से ज्यादा का वक्त लेते हुए 4 मार्च, 2015 को यह मुकाम हासिल किया। इसके 4 साल बाद 23 मई, 2019 को 40 हजारी बना और अगले 10 हजार अंक की बढ़ोतरी 2 साल से भी कम वक्त में हासिल करते हुए यह 21 जनवरी, 2021 को 50 हजार के पार निकल कर 60 हजार के पार पहुंच गया है।

उल्लेखनीय है कि शेयर बाजार ने पिछले कुछ वर्षों में कई अनिश्चितताओं का सामना किया है। बीएसई का सेंसेक्स इस साल अब तक 25 फीसदी से ज्यादा चढ़ा है, जबकि पिछले महीने इसमें 9 फीसदी से ज्यादा की तेजी आई है। हालांकि, इस तेजी से पहले मार्च 2020 में सेंसेक्स में लगभग 15.7 फीसदी की भारी गिरावट भी दर्ज हुई। बीएसई के सीईओ आशीष कुमार चौहान ने आज एक ट्वीट में उक्त घटनाओं का जिक्र भी किया है।

From Around the web