रिलायंस के शेयर में जोरदार तेजी, 17 लाख करोड़ मार्केट कैप वाली देश की पहली कंपनी बनी आरआईएल

भारतीय शेयर बाजार ऐतिहासिक तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है। बाजार की इस तेजी में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) का जबरदस्त योगदान रहा है। कंपनी के शेयर लिवाली के समर्थन से लगातार ऊपर चल रहे हैं जिसकी वजह से रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड 17 लाख करोड़ रुपये मार्केट कैप वाली देश की पहली कंपनी बन गई है।

 
RIL Become First Company With Market Cap of 17 Lakh Crore

नई दिल्ली, 27 सितंबर। भारतीय शेयर बाजार ऐतिहासिक तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है। बाजार की इस तेजी में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) का जबरदस्त योगदान रहा है। कंपनी के शेयर लिवाली के समर्थन से लगातार ऊपर चल रहे हैं जिसकी वजह से रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड 17 लाख करोड़ रुपये मार्केट कैप वाली देश की पहली कंपनी बन गई है।

जानकारों का कहना है कि प्राकृतिक गैस और कच्चे तेल की कीमत में लगातार हो रही बढ़ोतरी के कारण रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों की गति में अभी और उछाल आने की संभावना बनी हुई है। ऐसे में अगर रिलायंस के शेयर मूल्य में आने वाले दिनों में तेजी जारी रही, तो कंपनी का मार्केट कैप मौजूदा 17 लाख करोड़ रुपये के स्तर से भी काफी आगे निकल सकता है।

RIL Become First Company With Market Cap of 17 Lakh Crore

शेयर बाजार में आज के कारोबार के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर 2,524.45 रुपये के सर्वोच्च स्तर पर बंद हुए। दिन के कारोबार के दौरान रिलायंस के शेयर ने 2,529.90 रुपये के भाव पर पहुंच कर अपना 52 सप्ताह का सर्वोच्च स्तर भी हासिल किया। लेकिन इंट्रा-डे सेटेलमेंट के कारण इस शेयर ने सर्वोच्च स्तर से थोड़ा नीचे 2,524.45 रुपए के भाव पर आज के कारोबार का अंत किया।

जानकारों के मुताबिक रिलायंस के शेयर में मूल्य में आई तेजी की सबसे बड़ी वजह क्रूड ऑयल और नेचुरल गैस की कीमत में आई वैश्विक तेजी है। दुनिया भर में नेचुरल गैस की कीमत में इस साल अभी तक 132 फीसदी का इजाफा हो चुका है। नेचुरल गैस की कीमत बढ़ने का प्रत्यक्ष फायदा रिलायंस इंडस्ट्रीज को भी मिला है।

बाजार के विश्लेषकों का मानना है कि रिलायंस के शेयर में आने वाले दिनों मामूली करेक्शन जरूर हो सकता है, लेकिन इसके शॉर्ट टर्म में 2,800 से लेकर 3,000 रुपये के स्तर तक पहुंचने की भी पूरी संभावना बनी हुई है। ऐसा होने पर रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप नई ऊंचाई पर पहुंच सकता है।



फिलहाल मार्केट कैप के मामले में रिलायंस इंडस्ट्रीज 17 लाख करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण के साथ देश की सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। दूसरे स्थान पर टीसीएस 14 लाख करोड़ के बाजार पूंजीकरण के साथ बनी हुई है। 9 लाख करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण के साथ मार्केट कैप के मामले में एचडीएफसी बैंक तीसरे स्थान पर है।

From Around the web