कोरोना काल के बाद बाजार की सरपट चाल, 16 महीने में 10 से 18 हजार अंक तक पहुंचा निफ्टी

भारतीय शेयर बाजार आज शानदार तेजी दिखाने के बाद आखिरी वक्त में अपनी बढ़त को गंवा कर जरूर बंद हुआ लेकिन आज शेयर बाजार की की नई ऊंचाई ने एक बार फिर बाजार की सरपट चाल से निवेशकों को रूबरू कराया। नेशनल
 
Gallop of the market after the Corona period, Nifty reached 10 to 18 thousand marks in 16 months
भारतीय शेयर बाजार आज शानदार तेजी दिखाने के बाद आखिरी वक्त में अपनी बढ़त को गंवा कर जरूर बंद हुआ लेकिन आज शेयर बाजार की की नई ऊंचाई ने एक बार फिर बाजार की सरपट चाल से निवेशकों को रूबरू कराया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी आज पहली बार 18 हजार अंक के ऐतिहासिक आंकड़े पर पहुंचने में सफल रहा। इसके पहले 31 अगस्त को निफ्टी 17 हजार के आंकड़े पर पहुंचा था। यानी सिर्फ 41 दिन के दौरान 28 कारोबारी सत्रों में ही निफ्टी ने एक नई ऊंचाई हासिल कर ली।

Gallop of the market after the Corona period, Nifty reached 10 to 18 thousand marks in 16 months

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के निफ्टी की गति का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि इस सूचकांक ने कोरोना संक्रमण के दौरान बाजार में हुई जोरदार गिरावट के बाद की स्थितियों का सामना करते हुए सिर्फ 16 महीने की अवधि में ही 10 हजार अंक से चलकर 18 हजार अंक तक पहुंचने का सफर तय किया है। कोरोना काल में जोरदार गिरावट का सामना करने के बाद 3 जून, 2020 को निफ्टी 10 हजार अंक के स्तर तक पहुंचा था। आज इस सूचकांक ने तब से लेकर अभी तक की अवधि में 8 हजार अंकों का सफर पूरा करके 18 हजार अंक तक पहुंचने में सफलता हासिल की।



नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के आंकड़ों के मुताबिक कोरोना के पहले दौर में गिरावट का सामना करने के बाद 3 जून, 2020 को निफ्टी 10 हजार अंक पर और फिर 20 जून, 2020 को 11 हजार अंक के स्तर तक पहुंचा। इसके बाद का अगला 1 हजार अंक का आंकड़ा हासिल करने में निफ्टी को करीब 4 महीने का समय लगा। 12 अक्टूबर 2020 को निफ्टी 12 हजार अंक के आंकड़े पर पहुंचा। इसके अगले ही महीने 24 नवंबर, 2020 को निफ्टी 13 हजार अंक के स्तर पर पहुंच गया जबकि 31 दिसंबर, 2020 को निफ्टी ने 14 हजार अंक तक पहुंचने में सफलता हासिल की। इसके 1 महीना 5 दिन बाद 5 फरवरी, 2021 को निफ्टी 15 हजार के स्तर तक पहुंचा। इसके बाद 15 हजार से 16 हजार अंक का सफर तय करने में निफ्टी को 6 महीने का समय लग गया। 3 अगस्त, 2021 को निफ्टी 16 हजार अंक के स्तर पर पहुंचा जबकि इसी महीने 28 दिन के अंतराल पर 31 अगस्त को निफ्टी 17 हजार अंक के स्तर पर पहुंच गया। इसके बाद का अगला ऐतिहासिक पड़ाव यानी 18 हजार अंक के आंकड़े तक पहुंचने में निफ्टी को 41 दिन का समय लगाना पड़ा।



शेयर बाजार के जानकारों का मानना है कि मौजूदा मार्केट कंडीशन में अगर कोई बड़ी अनहोनी नहीं हुई, तो दिसंबर के पहले ही निफ्टी 20 हजार के आंकड़े को भी पार कर सकता है। पसरिचा सिक्योरिटीज के रिसर्च हेड श्याम मोहन गुप्ता का मानना है कि ग्लोबल संकेतों के अलावा भारतीय बाजार में भी लगातार पॉजिटिव सेंटीमेंट्स बने हुए हैं। इनकी वजह से शेयर बाजार में लगातार तेजी बने रहने की उम्मीद है। बीच में मामूली करेक्शन या मुनाफावसूली की स्थिति बन सकती है लेकिन अगले 2 महीने तक बाजार में लगातार तेजी बने रहने के आसार नजर आ रहे हैं। ऐसे में 2021 के अंत तक भारतीय शेयर बाजार ऐतिहासिक ऊंचाई तक भी छलांग लगाकर पहुंच सकता है।

From Around the web