बिहार में महागठबंधन से ये बड़ा दल हुआ बाहर, सीटों पर घोषणा इस दिन

लोकसभा चुनाव के ऐलान होते हैं सियासी उथल पुथल भी शुरू हो गई है और नेताओं ही नहीं अब गठबंधन से भी राजनीतिक दलें बाहर होने लगी है, इसका ताजा परिणाम बिहार के विपक्षी महागठबंधन में देखने को मिला है, जो अब महागठबंधन के अस्तित्व पर ही सवाल खड़े कर रहा है। बिहार में महागठबंधन
 
बिहार में महागठबंधन से ये बड़ा दल हुआ बाहर, सीटों पर घोषणा इस दिन
लोकसभा चुनाव के ऐलान होते हैं सियासी उथल पुथल भी शुरू हो गई है और नेताओं ही नहीं अब गठबंधन से भी राजनीतिक दलें बाहर होने लगी है, इसका ताजा परिणाम बिहार के विपक्षी महागठबंधन में देखने को मिला है, जो अब महागठबंधन के अस्तित्व पर ही सवाल खड़े कर रहा है।

बिहार में महागठबंधन से ये बड़ा दल हुआ बाहर, सीटों पर घोषणा इस दिन

बिहार में महागठबंधन की पार्टियों के बीच सीटों के बंटवारे का फार्मूला बुधवार को लगभग तय हो गया। कांग्रेस 40 में से 11 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ सकती है, हालांकि वाम दलों को साथ लेने पर सहमति नहीं बन पाई है। इससे इतना तय हो गया है कि जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया बेगूसराय से महागठबंधन के उम्मीदवार नहीं होंगे।

इस लिहाज से देखा जाएं तो बिहार के महागठबंधन से लेफ्ट बाहर हो गई है। ऐसे में कन्हैया को महागठबंधन से टिकट मिलने पर संकट दिख रहा है अब लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे पूर्व छात्रसंघ नेता कन्हैया कुमार के लिए अपने दम पर चुनाव लड़ने की चुनौती बन रही है जिसमें उन्हें भाजपा गठबंधन के साथ अब महागठबंधन के उम्मीदवारों को भी परास्त करना होगा।

बिहार में महागठबंधन से ये बड़ा दल हुआ बाहर, सीटों पर घोषणा इस दिन

हालांकि सूत्रों के मुताबिक, राजद नेता तेजस्वी यादव महागठबंधन में रालोसपा, हम, लोकतांत्रिक जनता दल और मुकेश साहनी की विकासशील इंसान पार्टी को साथ रखना चाहते हैं। वह राज्य में वाम दलों का सीमित आधार होने का तर्क दे कर उन्हें सीटें देने के पक्ष में नहीं हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस चाहती है कि एक या दो सीटें देकर वाम दलों को भी महागठबंधन में साथ रखा जाए।

From Around the web