लड़का बन गया था सांप, बोला रात 12 बजे मुझे नागिन ले जाएगी, देखने वालों की लग गई भीड़

इंदौर: मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में एक अजीबोगरीब मामला प्रकाश में आया है। यहां एक युवक सांप की तरह घूमता हुआ पाया गया। कभी वह आह भर रहा था, कभी सांप की तरह उसके पेट पर रेंग रहा था। इतना ही नहीं, एक युवा सांप की अफवाह इतनी तेजी से फैली कि आसपास के
 
लड़का बन गया था सांप, बोला रात 12 बजे मुझे नागिन ले जाएगी, देखने वालों की लग गई भीड़

इंदौर: मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में एक अजीबोगरीब मामला प्रकाश में आया है। यहां एक युवक सांप की तरह घूमता हुआ पाया गया। कभी वह आह भर रहा था, कभी सांप की तरह उसके पेट पर रेंग रहा था। इतना ही नहीं, एक युवा सांप की अफवाह इतनी तेजी से फैली कि आसपास के गांवों के हजारों लोग इसे देखने के लिए यहां इकट्ठा हो गए।

मामला बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के पास सेजवाही गांव का है। जहां, ग्रामीणों में फैली अफवाहों के अनुसार, सेजवाही के एक आदिवासी परिवार के घर में एक दिन पहले एक सांप आकर बैठ गया है। नागिन के घर में आने के बाद ही घर के बेटे मुन्ना को नागिन की तरह आपत्ति होने लगी। सर्प की आत्मा उसके पास आ गई, और उसे साँस लेने के लिए कहा गया। इतना ही नहीं, बल्कि युवक ने घोषणा की कि वह 12 बजे गायब हो जाएगा और नागिन उसे ले जाएगी।

उसी अफवाह को देखने के लिए हजारों ग्रामीण इकट्ठा हुए, लेकिन जैसे ही 12 बजे युवक गायब नहीं हुआ, यह सांप नहीं बल्कि एक शैतान था उसके ऊपर कोई आत्मा थी ऐसा कहा गया। फिर तांत्रिक ने झाड फूंक का काम शुरू किया।

जब तांत्रिक ने युवक को छड़ी से पीटना शुरू कर दिया, तो उसका कथित शैतान का भूत उतर गया और उसने हाथ जोड़कर सभी से माफी मांगी। ये सुना गया है कि दानव ने गांव के बाहर एक नाग मंदिर बनाने की शर्त पर युवक को छोड़ दिया था।

आपको यह जानकर गुस्सा आएगा कि कई घंटों तक चलने वाले इस तमाशे की खबर प्रशासन तक नहीं पहुंची। गांव के सरपंच और सचिव ने भी प्रशासन को सूचित नहीं किया। हजारों ग्रामीणों के बीच भी, कोरन का डर बिल्कुल भी नहीं था। बाद में, कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने युवाओं से धारा 188 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करने को कहा। यह घटना इस क्षेत्र में अंधविश्वास की सीमा को दर्शाती है।

From Around the web