कड़वी सच्चाई : यहाँ पर मात्र 12 साल की लड़कियों को देहव्यापार के लिए भेजा जाता है

कड़वी सच्चाई: भारत दुनिया भर में कला और संस्कारो के लिए जाना जाता है लेकिन इस भारत की एक कड़वी सच्चाई भी छुपी हुई है। भारत में कुछ जगह ऐसी है वहाँ लोग चंद नोटों के खातिर लड़कियों का देह व्यापार करते है जिस उम्र में उनको पढाई लिखाई की जरुरत है इतनी समझदार होने
 
कड़वी सच्चाई : यहाँ पर मात्र 12 साल की लड़कियों को देहव्यापार के लिए भेजा जाता है

कड़वी सच्चाई: भारत दुनिया भर में कला और संस्कारो के लिए जाना जाता है लेकिन इस भारत की एक कड़वी सच्चाई भी छुपी हुई है। भारत में कुछ जगह ऐसी है वहाँ लोग चंद नोटों के खातिर लड़कियों का देह व्यापार करते है जिस उम्र में उनको पढाई लिखाई की जरुरत है इतनी समझदार होने से पहले उनको इस काले धंधे में शामिल कर दिया जाता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

आप खुद सोचिये उस 12 वर्ष की बच्ची को जिसने अभी जिंदगी में व्यवहार करना भी नहीं सीखा उसके साथ इतनी बड़ी नाइंसाफी की जाती है सिर्फ इतना ही नहीं चंद रुपयों के लिए भारत में छुपकर इसकी तस्करी की जाती है यह सिर्फ भारत की नहीं बल्कि अन्य देशों के लिए भी चुनौती वाली समस्या बनी हुई है।

जी हाँ, हम बात कर रहे है कोलकाता में स्थित सोनागाछी (Sonagachi ) इलाके की, जहाँ लड़की के जन्म के साथ उसका भाग्य लिख दिया जाता है। मात्र 12 वर्ष की आयु में बच्चियों को असहनीय दर्द और पीड़ा का शिकार होना पड़ता है।

कई NGO और सरकारी संस्थाएँ AAGs सहित STDs के प्रसार को रोकने में मदद करने के लिए सोनागाछी में काम करती हैं। हालांकि वेश्यावृत्ति (prostitution) गैरकानूनी है, व्यापार फलता-फूलता है और जो महिलाएं वहां काम करती हैं, वे समाज से दूर हो जाती हैं।

From Around the web