घूस लेते राजस्व कर्मचारी गिरफ्तार, निगरानी विभाग ने गुप्त सूचना पर की कार्रवाई

 
Revenue employee arrested for taking bribe monitoring department acted on secret information
भागलपुर, 28 सितंबर जिले के शाहकुंड के अंचल कार्यालय में पदस्थापित राजस्व कर्मचारी सह अंचल निरीक्षक अभिनंदन प्रसाद सिंह को पटना से आयी निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने घूस लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया है।

अभिनंदन सिंह को उसके तिलका मांझी थाना क्षेत्र स्थित जवारीपुर से एक फरियादी मोहम्मद इकबाल से दाखिल खारिज के नाम पर एक लाख की घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है। गुप्त सूचना पर निगरानी विभाग की टीम ने बड़ी कार्यवाई करते हुए उसके पास से नगदी भी बरामद किया है। अभिनंदन सिंह को गिरफ्तार कर विजिलेंस की टीम सुल्तानगंज पहुंची जहां धावा दल का नेतृत्व कर रहे विजिलेंस के डीएसपी अरुणोदय पांडे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मामले की जानकारी दी। जानकारी देते हुए डीएसपी अरुणोदय पांडे ने बताया कि मोहम्मद इकबाल नाम के एक फरियादी ने विजिलेंस अधिकारियों को सूचित किया था कि क्षेत्र में दाखिल खारिज को लेकर भ्रष्टाचार का माहौल है। बिना पैसे लेनदेन के कोई भी काम नहीं होता। जिस पर विजिलेंस की टीम ने संज्ञान ले लिया। विजिलेंस की टीम ने फरियादी से शिकायत दर्ज कराने को कहा। जिसके बाद सत्यापन में शिकायत सही पाई गई।

शिकायत के बाद डीएसपी अरुणोदय के नेतृत्व में 11 सदस्य टीम गठित हुई। जिसमें अरुण पासवान, अरुणोदय पांडे, संजय जयसवाल, पुलिस निरीक्षक ईश्वर प्रसाद, पुलिस निरीक्षक सुनील कुमार, पुलिस अवर निरीक्षक अविनाश कुमार, संजय चतुर्वेदी, रेकी लाल श्रीवास्तव, राजीव कुमार, शशिकांत मणिकांत आदि शामिल थे।

डीएसपी ने बताया कि राज्य में भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई जा रही है। उसी के तहत लगातार मुहिम चलाकर भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। अंचल कार्यालय में दाखिल खारिज को लेकर लगातार ऐसी शिकायतें आ रही हैं। जिस पर विभाग पूरी मुस्तैदी से काम कर रहा है। भ्रष्टाचारियों पर विभाग की पैनी नजर है। कोई भी व्यक्ति निगरानी के टोल फ्री नंबर पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान निगरानी विभाग के वरीय पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

From Around the web