पहले पत्नी के प्रेमी को पिलाई शराब, इसके बाद वह अपनी पत्नी और उसके प्रेमी को एकांत में ले गया और फिर….

Crime News : सुलतान जब पत्नी स्वाति के पास पहुंचा तब वह अपने दोस्त से बातें कर रही थी। यह देखकर उसे दोनों के सम्बंधों को लेकर शक हुआ। इसके बाद वह अपनी पत्नी और उसके प्रेमी को एकांत में ले गया। जहां तीनों ने मिलकर शराब पी फिर अचानक सुलतान ने पत्नी के सामने
 
पहले पत्नी के प्रेमी को पिलाई शराब, इसके बाद वह अपनी पत्नी और उसके प्रेमी को एकांत में ले गया और फिर….

Crime News : सुलतान जब पत्नी स्वाति के पास पहुंचा तब वह अपने दोस्त से बातें कर रही थी। यह देखकर उसे दोनों के सम्बंधों को लेकर शक हुआ। इसके बाद वह अपनी पत्नी और उसके प्रेमी को एकांत में ले गया।

जहां तीनों ने मिलकर शराब पी फिर अचानक सुलतान ने पत्नी के सामने ही उसके प्रेमी निजाम को मौत के घाट उतार दिया और फरार हो गया।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

खबर के मुताबिक वारदात के बाद स्वाति ने कोतवाली थाना अंतर्गत 08 जनवरी 2020 को पति के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। सिवनी (मप्र) के ललमटिया में रहने वाली स्वाति परते एक किन्नर युवती है। उसने रिपोर्ट दर्ज करायी थी, कि उसके दोस्त भुसावल निवासी निजाम को जबलपुर के सुल्तान उर्फ तौफीक ने धारधार हथियार से मौत के घाट उतार दिया है।

जानकारी के अनुसार स्वाति की दोस्ती फेसबुक पर जबलपुर तीन पत्ती क्षेत्र में पेट्रोल पंप के पास रहने वाले सुल्तान से हुई। इसके बाद 2018 में दोनों ने मंदिर में जाकर प्रेम विवाह कर लिया था। 8 जनवरी को सुल्तान जबलपुर से पत्नी स्वाति से मिलने पहुंचा।

स्वाति के पास महाराष्ट्र के भुसावल निवासी निजाम को देखकर उसे कुछ शक हुआ। इसके बाद तीनों के द्वारा ललमटिया क्षेत्र में ही सुनसान स्थान पर जाकर बैठकर शराब का सेवन किया गया।

इस दौरान सुल्तान का शक और बढ़ गया, कि स्वाति उसे धोखा दे रही है। इसी बात को लेकर तीनों के बीच शराब पीते-पीते विवाद हो गया। विवाद इतना ज्यादा बढ़ गया कि सुल्तान ने निजाम के साथ मारपीट करते हुये धारधार हथियार चाकू से वार कर दिया। जिससे निजाम की घटना स्थल पर ही मौत हो गई।

पहले पत्नी के प्रेमी को पिलाई शराब, इसके बाद वह अपनी पत्नी और उसके प्रेमी को एकांत में ले गया और फिर….

इसके बाद सुल्तान मौके से फरार हो गया, घटना को अंजाम देने के बाद सुल्तान का मोबाईल मौके पर ही स्वाति को मिला था, जो उसने पुलिस को दिया था। घटना के बाद पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने एक पुलिस टीम का गठन कर आरोपी की सरगर्मी से जबलपुर सहित अन्य स्थानों पर पतासाजी शुरू कर दी थी।

इसी दौरान पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी सुल्तान उर्फ तौफीक अपनी खाला के यहां महाराष्ट्र के पुणे में रह रहा है, तब पुलिस टीम द्वारा उसकी खाला के घर जाकर आरोपी को गिरफ्तार किया गया।

From Around the web