जूनियर महिला डॉक्टर को मिली जान से मारने की धमकी, आरोपी गिरफ्तार

कानपुर के मुरारीलाल चेस्ट अस्पताल में कार्यरत जूनियर महिला डॉक्टर को कॉल कर जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने अंजान नम्बर
 
Junior female doctor received death threats accused arrested
कानपुर के मुरारीलाल चेस्ट अस्पताल में कार्यरत जूनियर महिला डॉक्टर को कॉल कर जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने अंजान नम्बर से कॉल कर धमकी देने वाले को सर्विलांस की मद्द से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार अभियुक्त बिठूर इलाके का रहने वाला है।
 

Junior female doctor received death threats accused arrested



मूलरूप से हरियाणा के भिवानी जनपद में आवास विकास कालोनी निवासी शिवांकी अग्रवाल कानपुर के गणेश शंकर विद्यार्थी मेडिकल कॉलेज में पीजी गर्ल्स हॉस्टल में रहती हैं। इन दिनों वह डॉ. मुरारीलाल चेस्ट अस्पताल में जूनियर डॉक्टर-2 के पद पर कार्यरत हैं। उन्होंने स्वरूप नगर थाने में तहरीर देते हुए शिकायत दर्ज कराई थी कि दो अक्टूबर को उनके मोबाइल पर एक अंजान नम्बर से जान से मारने का मैसेज आया। मैसेज भेजने वाले ने दो बार मिस्ड कॉल भी की। मोबाइल पर आए जान से मारने का मैसेज देख वह घबरा गई। इसकी जानकारी उन्होंने अपने वरिष्ठ अधिकारियों व सहकर्मियों को दी।



पुलिस ने जूनियर महिला डॉक्टर की शिकायत पर जिस नम्बर से धमकी भरा मैसेज भेजा गया था, उसे सर्विलांस पर लगाते हुए लोकेशन निकाली गई। लोकेशन ट्रेस होते ही पुलिस ने बिठूर के परगही बांगर गांव से आरोपी जीतू सिंह चौहान दबोच लिया।



इस सम्बंध में स्वरूप नगर थाना के कार्यवाहक प्रभारी सुधाकर सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपी युवक के पिता की चेस्ट अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। उसे मृत्यु प्रमाणपत्र बनवाने के लिए जब अस्पताल में सम्पर्क किया तो उसे डॉक्टरों ने कुछ दस्तावेजी औपचारिकताएं करने को कहा। इस बात से नाराज आरोपी ने डॉक्टर को धमकी भरा मैसेज भेज दिया था। उसका फोन जब्त कर लिया गया।



वहीं, गिरफ्तार आरोपी युवक को जमानत मिल गई। इसके पीछे जिन धाराओं में मुकदमा लिखा गया था उनमें सात वर्ष से अधिक की सजा का प्रावधान नहीं था। इसके चलते आरोपी युवक को गिरफ्तार करने के बाद जमानत पर छोड़ दिया गया।

From Around the web