दिल्ली में कार में बैठाकर दोस्तों ने किया बाहर की विदेशी महिला से सामूहिक दुष्कर्म

दिल्ली अपराध:- राजधानी दिल्ली महिलाओं के लिए देश का सर्वाधिक असुरक्षित शहर ऐसे ही नहीं कहा जाता। घरों और दूसरे स्थानों पर ही नहीं बल्कि, चलती कारों में भी महिलाऐं यहां सुरक्षित नहीं रहतीं। आपको याद होगा कि, अभी कुछ दिन पहले ही जेएनयू की एक छात्रा को कथित तौर पर कैब चालक ने नशीला
 
दिल्ली में कार में बैठाकर दोस्तों ने किया बाहर की विदेशी महिला से सामूहिक दुष्कर्म

दिल्ली अपराध:- राजधानी दिल्ली महिलाओं के लिए देश का सर्वाधिक असुरक्षित शहर ऐसे ही नहीं कहा जाता। घरों और दूसरे स्थानों पर ही नहीं बल्कि, चलती कारों में भी महिलाऐं यहां सुरक्षित नहीं रहतीं।

आपको याद होगा कि, अभी कुछ दिन पहले ही जेएनयू की एक छात्रा को कथित तौर पर कैब चालक ने नशीला खिलाकर कैब में ही रेपकर पार्क में फेंक दिया था। अब फिर ऐसी ही एक और शर्मनाक घटना सामने आई है।

पुलिस को मिली शिकायत के अनुसार यह वारदात यहां वसंत कुंज इलाके में हुई, जिसने दिल्ली को एक बार फिर शर्मसार कर दिया है। एक 31 वर्षीय विदेशी महिला से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है।

यह घटना 10 अगस्त की बताई जा रही है। इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जिनमें एक पीड़िता का दोस्त भी शामिल है।

छात्रा को कैब ड्रायवर ने नशीला खिलाया, रेप कर पार्क में फेंका

जानकारी के अनुसार पीड़िता उजबेकिस्तान की रहने वाली है। वह तीन महीने पहले ही दिल्ली आई है जबकि, उसकी आपोपियों से दोस्ती पहले से होने का पता चला है। उसने आरोप लगाया है कि वसंत कुंज इलाके में एक कार में तीन लोगों ने उससे छेड़छाड़ की, विरोध जताने पर पहले खूब मारा पीटा, फिर गुरुग्राम ले जाकर उसरे साथ तीनों ने रेप किया।

आरोप है कि पीड़िता के एक जानने वाले यशराज ने उसे कॉल करके वसंत कुंज के स्क्वायर मॉल में बुलाया था। वहां से अपनी कार में बिठाया जिसमें पहले से ही उसके दो दोस्त भी मौजूद थे। युवक गुरुग्राम का रहने वाला है। कार में बैठने के बाद पहले तीनों ने पीड़िता को मारा पीटा और फिर उसके साथ गैंगरेप किया।

पुलिस ने बताया है कि सभी आरोपी पीड़िता के जानकार हैं। वह सबको पहले से जानती है। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण पश्चिम) देवेंद्र आर्य ने कहा कि शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया गया है और इसकी जांच की जा रही है।
इस मामले अभी यह भी पता नहीं चला कि आरोपियों से उसकी दोस्ती कैसे हुई, वह किसलिए दिल्ली आई है और क्या करती है। इसी तरह अब तक आरोपियों के बारे में भी खास जानकारी नहीं मिल सकी।

From Around the web