पिता के मोबाइल गेम खेलने से मना करने पर 12 वर्षीय बेटे ने की आत्महत्या

मध्य प्रदेश के सागर जिले के धाना गांव में एक 12 वर्षीय लड़के ने सिर्फ इसलिए आत्महत्या कर ली क्योंकि उसके परिवार के सदस्यों ने उसे अपने मोबाइल फोन पर गेम खेलने से मना कर दिया था। बच्चे को फ्री फायर गेम्स खेलना पसंद था और सारा दिन गेम खेलते थे। जिससे कि परिवार ने
 
पिता के मोबाइल गेम खेलने से मना करने पर 12 वर्षीय बेटे ने की आत्महत्या

मध्य प्रदेश के सागर जिले के धाना गांव में एक 12 वर्षीय लड़के ने सिर्फ इसलिए आत्महत्या कर ली क्योंकि उसके परिवार के सदस्यों ने उसे अपने मोबाइल फोन पर गेम खेलने से मना कर दिया था। बच्चे को फ्री फायर गेम्स खेलना पसंद था और सारा दिन गेम खेलते थे। जिससे कि परिवार ने उसे फटकार लगाई। पिता ने सोमवार को गेम खेलते समय बच्चे को फटकार लगाई और उससे मोबाइल छीन लिया। बच्चे को यह पसंद नहीं आया और गुस्से में फंसकर उसने आत्महत्या कर ली। तो परिवार के सदस्यों का रोना मौजूद है।

12 साल की उम्र में आत्महत्या

पुलिस ने बच्चे के शव को जब्त कर लिया और पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया और जांच की। बच्चे के पिता ने खेल पर प्रतिबंध लगाने की मांग की। ताकि दोबारा ऐसी घटना न हो। एडिशनल एसपी विक्रम सिंह ने कहा, ’12 साल के एक लड़के ने आत्महत्या कर ली। वह मोबाइल पर गेम खेलने का शौकीन था लेकिन उसके पिता ने उसे गेम नहीं खेलने दिया और उसने आत्महत्या कर ली। मामले की और जांच की जा रही है।

From Around the web