सुबह शाम दीपक जलाने का क्या है महत्त्व, क्यों जलते है दीपक, हिन्दू धर्म में मान्यता

अनुष्ठान या पूजा पाठ में दीपक जलाना अपने आप में एक शुभ संकेत है क्योंकि किसी भी पूजा और अनुष्ठान को सफल बनाने के लिए दीप का जलाना अति आवश्यक है इसके बिना कोई भी पूजा पाठ या धार्मिक अनुष्ठान सफल नहीं माना जाता है और इस बात का उल्लेख हिंदू धर्म शास्त्र में भी
 
सुबह शाम दीपक जलाने का क्या है महत्त्व, क्यों जलते है दीपक, हिन्दू धर्म में मान्यता

अनुष्ठान या पूजा पाठ में दीपक जलाना अपने आप में एक शुभ संकेत है क्योंकि किसी भी पूजा और अनुष्ठान को सफल बनाने के लिए दीप का जलाना अति आवश्यक है इसके बिना कोई भी पूजा पाठ या धार्मिक अनुष्ठान सफल नहीं माना जाता है और इस बात का उल्लेख हिंदू धर्म शास्त्र में भी किए गए हैं इसीलिए किसी भी त्यौहार पूजा-पाठ में सभी लोग अपने घर में दीपक जलाते हैं ताकि उनके घर में उपस्थित किसी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा का अगर प्रवेश होता है तो वह अपने आप नष्ट हो जाती है क्योंकि आप अपने आप में विनाश की सूचक मानी जाती है और वह आपके घर में उपस्थित किसी प्रकार के नकारात्मक ऊर्जा को नष्ट करने में काफी कारगर भूमिका निभाती है इसके अलावा अग्नि का अपने आप में महत्व माना जाता है,

अगर कोई भी आपको शुभ कार्य करना है तो अग्नि का साक्षी मानकर अगर आप करते हैं तो उस कार्य को सफल होने से कोई भी रोक नहीं पायेगा क्योंकि अग्नि का अपने आप में एक धार्मिक और ऐतिहासिक महत्व बहुत ज्यादा है। अगर आप 1 साल तक ब्राह्मण या मंदिर में दीपक जलाते हैं तो आपके जीवन में हो रही सभी प्रकार की परेशानियां तकलीफों का सामना हो जाएगा और मरने के बाद आपको स्वर्ग की प्राप्ति होगी इसके अलावा अगर आप अपने घर में सुबह और शाम को दीपक जलाते हैं तो आपके घर में माता लक्ष्मी का वास होगा क्योंकि जिस घर में दीपक जलाया जाता है वह अपने आप में शुभ और महत्वपूर्ण घड़ी होती है क्योंकि घर में दीपक जलाने का मतलब होता है

From Around the web