पैसा बनाने के लिए जरूरी हैं ये 7 कदम, नंबर 4 आएगा बहुत काम

पैसा बनाने के लिए अपनी खर्च की आदतों पर लगाम लगाना सीखना होता है ताकि हमेशा सकारात्मक स्थिति में बिजनेस चलायें न कि कर्ज में डूब जाएँ । अगर आप अपने लिए सच्ची दौलत कमाना चाहते हैं, तो आपको सकारात्मक वित्तीय आदतें स्थापित करने के लिए ये कदम उठाने ही होंगे – नुकसान में काम
 
पैसा बनाने के लिए जरूरी हैं ये 7 कदम, नंबर 4 आएगा बहुत काम

पैसा बनाने के लिए अपनी खर्च की आदतों पर लगाम लगाना सीखना होता है ताकि हमेशा सकारात्मक स्थिति में बिजनेस चलायें न कि कर्ज में डूब जाएँ । अगर आप अपने लिए सच्ची दौलत कमाना चाहते हैं, तो आपको सकारात्मक वित्तीय आदतें स्थापित करने के लिए ये कदम उठाने ही होंगे –

नुकसान में काम न करें

पैसा बनाने के दौरान अधिकतर एंटरप्रेन्योर्स जो गलती करते हैं वह होती है, कमाई से ज्यादा खर्च करना । अक्सर लोग जितना कमाते हैं, उससे ज्यादा खर्च कर देते हैं । हो सकता है कि यह सुनने में हास्यास्पद लगे लेकिन यही सच है । पैसा बनाने का एक सबसे आसान तरीका यही है कि आप जितना कमा रहे हैं, उससे कम खर्च करें । हांलाकि अधिकतर लोग यही चूक कर बैठते हैं और क्रेडिट कार्ड्स के भरोसे खर्च करते रहते हैं । वह सोचते हैं कि भविष्य में ज्यादा पैसा कमा लेंगे और उससे सब बराबर हो जाएगा लेकिन वास्तव में जब ऐसा होता है और ऐसे लोग ज्यादा पैसे कमाने लगते हैं , तो वह खर्च भी ज्यादा करते हैं इससे उनके खर्च की बुरी आदत बनी रहती है और वह नुकसान में भी काम चलाते रहते हैं ।

खुद पर टैक्स लगायें

सोचें कि सरकार अचानक ही टैक्स बढ़ा दे और आपको हर महीने 1000 रूपये ज्यादा का टैक्स भरना पड़े तो आप कैसे न कैसे करके वह टैक्स भरेंगे । आप किसी भी तरह से इन 1000 रूपयों का इंतजाम हर महीने करेंगे लेकिन जब पैसा बचाने की बात आएगी, तब आप हर महीने Sav।ng के लिए निकालने की बात पर अकसर बहाने बनाते नजर आयेंगे या अगले महीने पर टालते नजर आयेंगे ।

ऐसे में एक आटोमेटिक बैंक ट्रांसफर सेट करें, जिससे जब भी आपका पेमेंट आये उसमें से कुछ हिस्सा आपके सेविंग्स अकाउंट में चला जाए । आप यह मानकर चलें कि वह पैसा है ही नहीं और उसे कुछ समय के लिए भूल जायें । कुछ साल बाद आप खुद का शुक्रिया करेंगे ।

जिम्मेदार लोगों को साथ रखें

अगर आप वाकई अपने लिए पैसा बनाना और बचाना चाहते हैं, तो आपको ऐसे लोगों के साथ रहना चाहिए जो वित्तीय रूप से जिम्मेदार हों । यह ऐसे लोग होते हैं और आप उनसे सीख सकते हैं । आप अपने किसी फैमिली फ्रेंड को इसके लिए चुन सकते हैं जो खुद वित्तीय सफलता हासिल कर चूका हो और वह इस प्रक्रिया के दौरान मेंटर बनाकर आपको गाईड कर सके ।

स्टॉक मार्केट से न खेलें

जब तक कि आपका जॉब एक ट्रेडर न हो, तब तक आप अपना स्टॉक मार्केट में न लगायें । यह न सोचें कि आप स्टॉक मार्केट से ज्यादा स्मार्ट हैं । अगर आप यह सोचते हैं कि जिस काम में कुछ लोग अपना पूरा करियर बनाते हैं, उसे आप यूँही आसानी से कर लेंगे, तो आप गलत सोचते हैं । यह आपके लिए जुआ खेलने जैसा हो सकता है । इसके बजाय आप अपने पैसे को इन्वेस्ट कर सकते हैं । आप पैसे को निवेश करने में किसी वित्तीय सलाहकार की मदद भी ले सकते हैं ।

क्रेडिट कार्ड्स का बिल दें

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने बड़े उद्यमी हैं, अगर आप क्रडिट कार्ड के बिल का भुगतान करने के लिए कमाई के किसी विश्वसनीय साधन के बिना क्रडिट कार्ड्स बढ़ाते जाते हैं, तो आप लापरवाह हैं । आपको चाहिए कि आप अपने वित्तीय निर्णय हमेशा अपनी वर्तमान कमाई के आधार पर लें न कि भविष्य में होने वाली कमाई के आधार पर । अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो आप भविष्य में निश्चित ही खुद को कर्जे व ब्याज में डूबा हुआ पायेंगे ।

वित्तीय लक्ष्य तय करें

जब आपके पास कोई लक्ष्य होता है, तो आप पैसे को लेकर जिम्मेदार होते हैं लेकिन जब आपके पास कोई लक्ष्य नहीं होता, तो आप बिना सोचे समझे अपना पैसा आसानी से खर्च कर देते हैं ।

इसलिए हर साल की शुरूआत में ही अपने लिए एक बड़ा लक्ष्य निर्धारित कर लें और उसके बाद उसे 3 महीने के क्वार्ट्स में बाँट लें ताकि आप हर क्वार्टर में अपनी बढ़त चेक कर सकें । छोटे लक्ष्यों के बाद ही आप बड़ा लक्ष्य पा सकेंगे ।

50-30-20 नियम अपनाएँ

कई वित्तीय विशेषज्ञ, युवा एंटरप्रेन्योर्स को 50-30-20 का नियम फॉलो करने की सलाह देते हैं । इस नियम के अनुसार आपको अपनी कमाई का 50 प्रतिशत हिस्सा अपनी जरूरतों जैसे घर, कार पेमेंट्स, खाना आदि पर खर्च करना चाहिए, 30 प्रतिशत हिस्सा अपनी इच्छाओं जैसे कपड़े, घूमना. अच्छे डिनर आदि पर खर्च करना चाहिए और बचा हुआ 20 प्रतिशत हिस्सा आपको बचाकर रखना चाहिए । खासकर जब आप युवा होते हैं तब आप 70-20-10 नियम अपनाने के करीब होते हैं जो कि बहुत हद तक आपका पैसा आपके बैंक से खाली करने का काम करता है ।

आपका लक्ष्य 50-30-20 नियम को हासिल करने का होना चाहिए, तभी आप सही मायनों में एक सफल एंटरप्रेन्योर बन पायेंगे ।

From Around the web