99% लोग नहीं जानते प्रेगनेंसी टेस्ट करने का सही तरीका

गर्भधारण होने की पुष्टि के लिए प्रेग्नेंसी टेस्ट किया जाता है। प्रेग्नेंसी टेस्ट किट से महिलाएं घर बैठे अपने प्रेग्नेंट होने का मालूम कर सकती है।गर्भावस्था का सबसे बड़ा लक्षण है पीरियड्स का न आना। लेकिन फिर भी आपको प्रेग्नेंसी टेस्ट कर लेना चाहिए। आज हम आपको बताएंगे प्रेगनेंसी टेस्ट से संबंधित सच्चाई जो 99%
 
99% लोग नहीं जानते प्रेगनेंसी टेस्ट करने का सही तरीका

गर्भधारण होने की पुष्टि के लिए प्रेग्नेंसी टेस्ट किया जाता है। प्रेग्नेंसी टेस्ट किट से महिलाएं घर बैठे अपने प्रेग्नेंट होने का मालूम कर सकती है।गर्भावस्था का सबसे बड़ा लक्षण है पीरियड्स का न आना। लेकिन फिर भी आपको प्रेग्नेंसी टेस्ट कर लेना चाहिए। आज हम आपको बताएंगे प्रेगनेंसी टेस्ट से संबंधित सच्चाई जो 99% महिलाएं नहीं जानती हैं, तो आइए जान लेते हैं।हर महिला शादी के बाद माँ बनने के ख्वाब देखती है. माँ बनने का अनुभव हर एक महिला के लिए बेहद ही खास होता है.

ज्यादतर सभी महिलाएं माँ बनने को लेकर बहुत ही उत्साहित रहती हैं. जब किसी महिला को प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण दिखाई देने लगते हैं, तो वो पूरी तरह प्रेगनेंसी कंफर्म करने के लिए प्रेगनेंसी टेस्ट किट का प्रयोग करती हैं जो आपको बाजार में मिल जाते है,

• प्रेग्नेंसी टेस्ट हमेशा सुबह के समय करना चाहिए। क्योंकि सुबह के समय गर्भावस्था हार्मोन एचसीजी का उच्चतम स्तर होता है। इसलिए जांच करने से पहले कुछ भी पिएं नही। क्योकि पेय पदार्थ पीने से एचसीजी पतला हो जाता है। और जांच सही तरीके से नहीं हो पाती है।

• ऐसी दवाइयां जो फर्टिलिटी को बढाती है। इनसे एचसीजी और यूरिन में हार्मोन की संख्या बढ़ जाती है। जिससे प्रेग्नेंट ना होने पर भी रिजल्ट पॉजिटिव आ सकता है। इसलिए प्रेग्नेंसी के समय दवाइयों का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह ले।

• यूरिन टेस्ट में यूरिन में उपस्थिति एचसीजी के आधार पर बताया जाता है कि महिला प्रेग्नेंट है या नही।

From Around the web