भोलेबाबा का व्रत खोलें इन चीजों के साथ, तुरंत पूरी होगी मनोकामना और घर में खूब आएगा पैसा

भोलेबाबा का व्रत: शास्त्रों के अनुसार सोमवार के व्रत तीन तरह के होते हैं। सावन सोमवार, सोलह सोमवार और सोम प्रदोष। पंचांग के अनुसार इस बार सावन का महीना 30 दिनों का है जिसमें पांच सोमवार शामिल हैं। माना जाता है सावन महीने में भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा-अर्चना करने से सभी मनोकामनाएं
 
भोलेबाबा का व्रत खोलें इन चीजों के साथ, तुरंत पूरी होगी मनोकामना और घर में खूब आएगा पैसा

भोलेबाबा का व्रत: शास्त्रों के अनुसार सोमवार के व्रत तीन तरह के होते हैं। सावन सोमवार, सोलह सोमवार और सोम प्रदोष। पंचांग के अनुसार इस बार सावन का महीना 30 दिनों का है जिसमें पांच सोमवार शामिल हैं। माना जाता है सावन महीने में भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा-अर्चना करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। ऐसे में आइए जानते हैं पूरा दिन भूखा-प्यासा रहने के बाद किन चीजों के साथ व्रत खोलने पर शिव जी जल्द खुश हो जाते हैं।

व्रत में क्या खा सकते हैं

व्रत में आप दूसरे व्रत की तरह आलू का सेवन कई तरह से कर सकते हैं। इस व्रत में आलू चाट ,फ्राई आलू ,दही आलू ,आलू टिक्की ,मूंगफली के साथ आलू की सब्जी का सेवन किया जाता है। आलू में मौजूद विटामिन c आपकी त्वचा के लिए अच्छा होता है। आलू शुगर का भी अच्छा स्रोत है।व्रत के दौरान ये आपके शरीर में एनर्जी बनाए रखता है।व्रत खोलते समय आप कटु के आटे में भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

फलाहारी थालीपीठ

थालीपीठ एक बहुत ही प्रसिद्ध महाराष्ट्रियन डिश है। इसके लिए आपको साबूदाना ,उबले आलू ,भुनी मूंगफली और सिंघाड़े का आटा चाहिए। आप सिंघाड़े के आटे की जगह कटु का आटा भी ले सकते है।

समां के चावल

समां के चावल आमतौर पर व्रत में खाए जाते हैं। यह एक विशेष प्रकार का चावल है। जो की दिखने में सूजी जैसा पर थोड़ा बड़े आकर का होता है। आप इस चावल से खीर ,पूरी ,पुलाव ,समां चावल की खिचड़ी ,चकली और भी बहुत कुछ बना सकते हैं।

अगर आप चाहते हैं आपके ऊपर महादेव की कृपा दृष्टि बनी रहे तो, कृपया कमेंट में लिखें “हर हर महादेव” लिख पोस्ट को लाइक करें।

From Around the web