सेहत के लिए छोड़ दें ये गंदी आदतें, पढ़े पूरी जानकारी

कहते हैं आगाज अच्छा हो तो अंजाम भी अच्छा होता हैं। दिन की शुरूआत अच्छी हो तो दिनभर सबकुछ अच्छा ही होता हैं। दिन की शुरूआत करने वाली गंदी आदतों से हमें बचना चाहिए। जितनी जल्दी इन गलत आदतों से छुटकारा पा लिया जाए, उतना ही अच्छा हैं। सुबह-सुबह धुआं-धुआं कई लोग नींद से उठते
 
सेहत के लिए छोड़ दें ये गंदी आदतें, पढ़े पूरी जानकारी

कहते हैं आगाज अच्छा हो तो अंजाम भी अच्छा होता हैं। दिन की शुरूआत अच्छी हो तो दिनभर सबकुछ अच्छा ही होता हैं। दिन की शुरूआत करने वाली गंदी आदतों से हमें बचना चाहिए। जितनी जल्दी इन गलत आदतों से छुटकारा पा लिया जाए, उतना ही अच्छा हैं।

सुबह-सुबह धुआं-धुआं

कई लोग नींद से उठते ही अपना सिगरेट का पैकेट टटोलते हैं। एक तो पेट बीते 7-8 घंटो से खाली और ऊपर से इसमें सिगरेट के हजारों रसायनों का विषैला धुआं। समझदार को इशारा काफी हैं। इससे पेट और फेंफड़ों को कितना नुकसान पहुंचता बैं आप खुद अंदाजा लगा लें।

सुबह की शुरूआत पानी से और बाद में कोई मध्यम आकार का मौसमी फल या शुगर फ्री बिस्किट आदि लें तो आपकी पाचन प्रणाली के लिए फायदेमंद होगा।

बिस्तर पर चाय

सुबह चीनी व दूध से बनी चाय / कॉफी जैसे अम्लयुक्त पेय से दिन की शुरूआत करना अच्छी आदत नहीं हैं। इससे मेटाबॉलिज्म खराब होता हैं।

दिन की शुरूआत में गुनगुने पानी में आधे नींबू का रस ड़ालकर पिए। यह क्षारीय पेय शरीर से जमा टॉक्सिन बाहर करने में मदद करता हैं।

फोन से ना तोड़ें मौन

चर्चित लेखिका जूली मोर्गेनस्टार्न ने अपनी किताब- ‘नेवर चेक ई-मेल इन दी मॉर्निंग एंड अदर अनएक्सपेक्टेड स्ट्रेटजीज फोर मेकिंग योअर वर्कलाइफ वर्क’ में लिखा हैं, ‘आपकी एनर्जी सबसे पहले महत्वपूर्ण कार्यों पर खर्च होनी चाहिए। ईमेल, व्हाट्सएप या फेसबुक ऑफिस पहुंचने के बाद भी यूज कर सकते हैं। सुबह एक्सरसाइज, मेडिटेशन एवं नित्य कार्यों के लिए समय फिक्स रखें।

खिसियाहट या झगड़ा, सेहत पर पड़ेगा तगड़ा

कुछ लोग सुबह उठते ही बात-बात पर भुनभुनाते हैं या किसी से झगड़ पड़ते हैं। अपनी पत्नी / पति से, बच्चों से, दूध वाले, अखबार वाले, साग-सब्जी वाले, नौकरानी, सफाईकर्मी किसी से भी। सुबह-सुबह मूड़ बीगड़ने से कार्य करने की क्षमता प्रभावित होती हैं, और सकारात्मक ऊर्जा नष्ट होती हैं। बेहतर होगा झगड़े से बचें और खुश रहें।

From Around the web