जानिए आपका दिल स्वस्थ हैं या नहीं,ऐसे करें खुद के दिल की धड़कन का मापन

अगर आपका दिल सही तरीके से ना धड़के तो वह आपकी जिंदगी के लिए काफी खतरनाक हो सकता हैं। दिल की धड़कन का माप तालिका आपकी उम्र के अनुसार आपकी औसत नाड़ी दर का पता लगाने में मदद करता हैं। आप खुद थोड़ा सा माप करके यह काम आसानी से कर सकते हैं। जहां रक्त
 
जानिए आपका दिल स्वस्थ हैं या नहीं,ऐसे करें खुद के दिल की धड़कन का मापन

अगर आपका दिल सही तरीके से ना धड़के तो वह आपकी जिंदगी के लिए काफी खतरनाक हो सकता हैं। दिल की धड़कन का माप तालिका आपकी उम्र के अनुसार आपकी औसत नाड़ी दर का पता लगाने में मदद करता हैं। आप खुद थोड़ा सा माप करके यह काम आसानी से कर सकते हैं।

जहां रक्त वाहिनी धमनी त्वचा के करीब रहती हैं उस जगह पर हल्का सा दबाव डालने से हम धमनी स्पंदन की गणना कर सकते हैं। सबसे अधिक सुविधाजनक स्थान हमारी कलाई हैं दूसरा स्थान ठोडी के नीचे गर्दन के बगल में, जंघा संधि और पैरों के पास की हैं।

जानिए आपका दिल स्वस्थ हैं या नहीं,ऐसे करें खुद के दिल की धड़कन का मापन

इस प्रकार करें दिल की धड़कन की गणना

हाथ अपने सामने रखें और अपनी हथेली को ऊपर रखकर फैलाएं।
अब अपनी कलाई को दूसरे हाथ के अंगूठे से कलाई के नीचे की तरफ और अपनी तर्जनी और मध्यम उंगलियों से ऊपर की तरफ पकड़े और नाडी पर हल्का सा दबाव डालें।
अब आप धड़कन/ स्पंदन की 30 सेकंड तक गिनती करें आप घड़ी जिसमें सेकंड का हाथ हो इस्तेमाल कर सकते हैं 30 सेकंड के बाद गणना किए हुए अंक को 2 से गुणा करें इससे आपको 1 मिनट की नाड़ी की दर मालूम हो जाएगी।
ध्यान रखें एक स्वस्थ व्यक्ति का दिल 1 मिनट में 70 से 80 बार धड़कता हैं परंतु भारी व्यायाम आदि से इसकी गति 140 तक बढ़ सकती हैं।

From Around the web