कब है करवा चौथ, जानिए पूजा का समय, मुहूर्त एवं विधि

कब है करवा चौथ: Karwachauth 2020- प्रेम, श्रद्धा, विश्वास और त्याग का पावपावन पर्व करवा चौथ 4 नवंबर 2020 दिन बुधवार को है। इस दिन पूरे दिन भूखी-प्यासी रहकर पत्नियां अपने पति की लंबी उम्र की कामना करती हैं। इस परंपरगत त्यौहार को हमारी मीडिया ने भी बहुत ग्लैमराइज्ड कर दिया है इसी कारण ये
 
कब है करवा चौथ, जानिए पूजा का समय, मुहूर्त एवं विधि

कब है करवा चौथ:  Karwachauth 2020- प्रेम, श्रद्धा, विश्वास और त्याग का पावपावन पर्व करवा चौथ 4 नवंबर 2020 दिन बुधवार को है। इस दिन पूरे दिन भूखी-प्यासी रहकर पत्नियां अपने पति की लंबी उम्र की कामना करती हैं। इस परंपरगत त्यौहार को हमारी मीडिया ने भी बहुत ग्लैमराइज्ड कर दिया है इसी कारण ये त्यौहार आज उन लोगों में भी काफी लोकप्रिय है जो अपने आप को आधुनिक कहते हैं। इस बार करवाचौथ कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को पड़ रहा है, इस प्रकार यह पर्व और शुभ हो गया।

करवा चौथ का शुभ मुहूर्त

4 नवंबर को सुबर 03 बजकर 24 मिनट पर कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि का प्रारंभ हो रहा है। चतुर्थी तिथि का समापन 5 नवंबर को सुबर 5 बजकर 14 मिनट पर होगा।

कब खोलें व्रत

4 तारीख को व्रत रखने के लिए कुल 13 घंटे 37 मिनट का समय है। सुबह 06 बजकर 35 मिनट से रात 08 बजकर 12 मिनट कर करवा चौथ का व्रत रखना होगा।

करवा चौथ के दिन चंद्रोदय का समय

चंद्रमा इस पूजा और व्रत के केंद्र में हैं। जाहिर है कि उनका महत्व भी बहुत ज्यादा है। व्रत रखने वाली महिलाएं चंद्रमा को जल चढ़ाने के बाद ही जीवनसाथी के हाथ से जल ग्रहण करती हैं। 4 नवंबर को शाम 05 बजकर 34 मिनट से शाम 06 बजकर 52 मिनट तक करवा चौथ की पूजा का शुभ मुहूर्त है। इसी के दौरान आप पूजा कर लें।

व्रत पर फैशन का प्रभाव

भले ही पारंपरिक एक पूजा हो लेकिन इस व्रत ने फैशन का रूप धारण कर लिया है। स्त्रियां इस दिन भूखी-प्यासी रहकर सोलह श्रृंगार करती हैं और गणेश जी और करवा की पूजा करने के बाद चंद्रमा को अर्ध्य देती हैं।

हर किसी की चाहत बस यही कि……..

आप बाजार में देखेगें तो आपको इसकी बानगी दिख जाएगी, औरों से अलग दिखने की चाहत में महिलाएं आपको साडियों की, मेंहदी की, चूड़ियों की दुकानों पर नजर आयेगीं, हर किसी की चाहत बस यही कि वो बेहद सुंदर दिखे।

From Around the web