अगर आप भी अपने शरीर हो बनाना चाहते है मजबूत तो आज से ही अपने दिनचर्या में करे परिवर्तन

जैसा की आप सब जानते है की आज आधुनिक युग में लोगो के खान पान में कमी आई है और इसी कारण से स्वास्थ्य पूर्ण स्वस्थ नहीं रहते है । अगर हम स्वस्थ रहना चाहते है तो हमें अपने दिनचर्या में कुछ परिवर्तन करने होंगे | आइये जानते है की कौन से चीजे हमें अपने दिनचर्या
 

जैसा की आप सब जानते है की आज आधुनिक युग में लोगो के खान पान में कमी आई है और इसी कारण से स्वास्थ्य पूर्ण स्वस्थ नहीं रहते है । अगर हम स्वस्थ रहना चाहते है तो हमें अपने दिनचर्या में कुछ परिवर्तन करने होंगे | आइये जानते है की कौन से चीजे हमें अपने दिनचर्या में लाना है |

सुबह उठना 

हमें सूर्योदय होने तक जागकर बिस्तर छोड़ देना चाहिए और प्रसन्न मन से उगते हुए सूर्य को देख लेना चाहिए । गरमी के दिनों में 4 बजे और शर्दी के दिनों में 5 बजे प्रातः बिस्तर त्याग देना चाहिए। हमारे ऋषिमुनियों ने ब्रह्ममुहूर्त को अति लाभदायक बताया है यह सूर्योदय से 4 घडी पूर्व का समय होता है । इस समय शुद्ध वायु ग्रहण की जा सकती है । इस समय तक पशु-पक्षी और नवजात शिशु उठ जाते है |

खाली पेट पानी पीना 

प्रात: सोकर उठने के पश्चात शीतल जल पीकर शारीरिक क्रिया करने से पूर्व शौच आदि से निवृत हो जाना चाहिए । आजकल लोग सुबह उठकर बेड टी में गरमा-गर्म चाय का सेवन करते है जबकि हमारे देश की जलवायु उष्ण है इसलिए सुबह उठकर ठंडा पानी पीना चाहिए । इससे मन साफ रहता है और आखो की रौशनी में भी काफी लाभदायक होता है । बाल जल्दी सफ़ेद नहीं होते है, असमय बुढापा नहीं आता है ।

सुबह टहलना

सुबह को शुद्ध वायु में टहलना स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है । इसलिए प्रतिदिन शौच होकर पार्क आदि में जाकर शुद्ध वायु का आनंद लेना चाहिए । शुद्ध वायु लेने से फेफड़ों की उम्र बढ़ती है । निरंतर चलने वाली बीमारी ख़त्म हो जाती है ।

भोजन

आज के समय में नियमानुसार भोजन करना बहुत कठिन है। सभी को प्रत्येक दिन खाने के लिए एक समय नही मिलता है लेकिन अगर यह समय निश्चित हो जाये तो स्वास्थ्य के लिए अत्यंत लाभदायक है। भोजन करने के तुरंत बाद कम से कम 30 मिनट तक आराम कर लेना चाहिए फिर कार्य में लगना चाहिए।

जिन्हें सुबह नाश्ता किया है व स्कूल या दफ्तर में जाना है उन्हें 2-3 बने खाना खा लेना चाहिए, भोजन के बाद पानी बिल्कुल भी नही पीना चाहिए।

From Around the web