अगर आप भी लेते हैं खर्राटे, तो यह खबर आपके लिए है

खर्राटे लेना एक आम बात है| आपने कई लोगो को देखा होगा जिसमे से कुछ के खर्राटे की आवाज धीमी रहती है और कुछ की बहुत तेज| इस ध्वनी के कारण उनकी तो नींद खराब होती ही है साथ में सबसे ज्यादा परेशान उनके आस-पास सोने वाले लोग होते है| खर्राटे की आवाज तब आती
 
अगर आप भी लेते हैं खर्राटे, तो यह खबर आपके लिए है

खर्राटे लेना एक आम बात है| आपने कई लोगो को देखा होगा जिसमे से कुछ के खर्राटे की आवाज धीमी रहती है और कुछ की बहुत तेज| इस ध्वनी के कारण उनकी तो नींद खराब होती ही है साथ में सबसे ज्यादा परेशान उनके आस-पास सोने वाले लोग होते है| खर्राटे की आवाज तब आती है जब गले का ढांचा कम्पन्न करने लगता है जिसके कारण गले से तेज ध्वनि निकालने लगता है| आज हम आपको बताने जा रहे है खर्राटे आने का कारण और उसे रोकने के कुछ घरेलु उपाय|

अगर आप भी लेते हैं खर्राटे, तो यह खबर आपके लिए है

खर्राटे इन कारणों से आते है

खर्राटे आने के कई कारण होते है उनमे से कुछ इस प्रकार है- अत्यधिक वजन के कारण, नाक का साफ़ ना होना, नाक की नाली छोटा हो जाना, सुसक हवाओं के कारण, बढती उम्र, धुम्रपान इत्यादि खर्राटे आने के कारण होते है|

खर्राटे रोकने के उपाय

अगर आपके नाक में सुजन है जिसके कारण खर्राटे आते है तो आप एक ग्लास पानी में दो बूंद पुदीने का तेल मिलाकर रात को सोने से पहले गर्रारे करे| आपको यह गर्रारे तब तक करने है जबतक आपको अच्छा परिणाम ना मिले| या फिर आप नाक के पिच्छाले हिस्से में पुदीने का तेल भी लगा सकते है|

From Around the web