सर्दियों में अपने शरीर को दें ताकत, अपनाएं ये टिप्स

लाइफस्टाइल। सर्दियों के मौसम में रंग बिरंगी फल और सब्जियां मिलती हैं। जिनमें पाए जाने वाले विभिन्न पोषक तत्व और एंटीऑक्सीडेंट ना सिर्फ शरीर को पोषण देते हैं। बल्कि शरीर में मौजूद टॉक्सिंस को बाहर करने और इन्फेक्शन से बचाने में भी सहायक होते हैं। यह मौसमी फल और सब्जियां हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को
 
सर्दियों में अपने शरीर को दें ताकत, अपनाएं ये टिप्स

लाइफस्टाइल। सर्दियों के मौसम में रंग बिरंगी फल और सब्जियां मिलती हैं। जिनमें पाए जाने वाले विभिन्न पोषक तत्व और एंटीऑक्सीडेंट ना सिर्फ शरीर को पोषण देते हैं। बल्कि शरीर में मौजूद टॉक्सिंस को बाहर करने और इन्फेक्शन से बचाने में भी सहायक होते हैं। यह मौसमी फल और सब्जियां हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाती हैं। कैलोरी और वसा में कम होने के कारण आसानी से पच जाते हैं और जरूरी पौष्टिक तत्वों की आपूर्ति कर हमें हेल्दी रहने में मदद करते हैं।

रंग बिरंगे फलों के फायदे

सर्दियों में अपने शरीर को दें ताकत, अपनाएं ये टिप्स

सर्दियों में रंग-बिरंगे फल मिलते हैं और सभी की प्रकृति अलग अलग होती है उसी के अनुसार उसके फायदे भी अलग अलग होते हैं। कम से कम तीन रंग के फलों को हमें अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए सर्दियों में पालक, साग जैसी हरी पत्तेदार सब्जियां लाल टमाटर और पीले नींबू का नारंगी सेवन कर सकते हैं। इनमें मौजूद मिनिरल्स और विटामिंस आंखों, स्किन के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। दिन में दो से तीन कटोरी सब्जी अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। इसके साथ ही हरी पत्तेदार साग सब्जियां इस मौसम में आसानी से मिलती हैं। जिनका सेवन आपको रोगों से दूर करने में मदद करता है।

साबुत अनाज होगा लाभकारी

सर्दियों में अपने शरीर को दें ताकत, अपनाएं ये टिप्स

सर्दियों में अमूमन मक्का, ज्वार, जौँ, जैसे अनाजों का सेवन ज्यादा किया जाता है। सीमित मात्रा में यदि देसी घी उपयोग भी किया जाए तो यह फायदेमंद साबित होगा। फाइबर से भरपूर यह अनाज पाचन तंत्र को सुचारु बनाए रखने में सहायक हैं। इनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स निम्न स्तर पर होने के कारण यह ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मदद करते हैं। मिक्स आटे की एक से दो रोटी प्रतिदिन खाना लाभकारी होगा।

ड्राई फ्रूट्स और गजक का मौसम

सर्दियों में अपने शरीर को दें ताकत, अपनाएं ये टिप्स

सर्दी में यह ड्राई फ्रूट्स पिन्नियां, चूरमा, गोंद, या बेसन के लड्डू, गुड़, मूंगफली, गजक, गुड़ पट्टी रेवड़ी जैसी मिठाइयों के तौर पर खाई जाती हैं। इस मौसम में कई तरह के सीड्स जैसे अलसी, तेल, चिया, आदि से बने पकवान भी खाए जाते हैं। तासीर में गर्म होने के कारण यह खाद्य पदार्थ शरीर को तो गरम रखते ही हैं। इन में पाए जाने वाले पोषक तत्व लंबे समय तक इम्युनिटी पावर को भी मजबूत बना कर रखते हैं। हालांकि हर्द्य रोगी या डायबिटीज पीड़ितों के लिए इसकी सीमित मात्रा या फिर ना लेना ही अच्छा होगा। रोजाना एक मुट्ठी भर 10 से 15 ग्राम ड्राई फ्रूट, लड्डू 10 से 15 ग्राम रेवड़ी, गजक खाने से कोई नुकसान नहीं होगा।

नॉन वेज लवर्स के लिए भी अच्छा

सर्दियों में अपने शरीर को दें ताकत, अपनाएं ये टिप्स

नॉनवेज प्रेमियों के लिए भी है मौसम बेहतरीन है। शरीर को एनर्जी देने के साथ इन में मौजूद ओमेगा 3, फैटी एसिड, एंटीऑक्सीडेंट, प्रोटीन और अन्य मिनिरल्स शरीर को काफी लाभ पहुंचाते हैं। और मांसपेशियों को मजबूत बनाने में अहम योगदान निभाते हैं।

लेटेस्ट न्यूज़, अपडेट को पाने के लिए हमारी यह APP DOWNLOAD करने के लिए यहाँ क्लिक करें। 

From Around the web