सफल गृहणी बनने के लिए अपनाएं ये सूत्र

 
Follow this formula to become a successful housewife

स्वस्थ्य रहना तो हम सब चाहते है, लेकिन उसके लिये हम क्या करें अक्सर लोग यह नही जानते। उम्र बढ़ने के साथ साथ लोग स्वास्थ्य के प्रति अधिक चिंतित दिखाई देते है। लेकिन बरसो से बनी हुई अपनी दिनचर्या को बदलना उन्हें कठिन महसूस होता है, पर सच कहूँ तो वास्तव में ऐसा नही है। बरसों बाद भी आप अपनी दिनचर्या को बदल सकते है 

Follow this formula to become a successful housewife

1. पहला सूत्र है सुबह जल्दी उठना और रात को जल्दी सोना। यह सबसे आसान भी है और सबसे मुश्किल भी। अब इसमें एक समस्या है सभी लोगो के लिये जल्दी उठने का समय अलग अलग होता है कुछ लोग 6 बजे उठने को जल्दी कहेंगे और कुछ लोग 8 बजे उठ कर भी जल्दी उठा महसूस करते है। पर उठने का सही समय है ब्रह्म मुहूर्त

 सूरज निकलने से पहले के एक से दो घन्टे तक के समय को ब्रह्म मुहूर्त कहते है। यह बिस्तर छोड़ने का सर्वश्रेष्ठ समय है। यदि आप इस समय उठने लगे तो पूरा दिन सुस्ती आप को छू भी नही पायेगी।

2. सुबह सबसे पहला काम है व्यायाम करना। जिससे आपकी सुस्ती दूर हो जायेगी और अन्य कामों के लिये शरीर तैयार हो जायेगा।

3. शौचादि से पहले एक गिलास गुनगुना पानी पी लें, इससे आपका पेट ठीक से साफ हो पायेगा।

4. सुबह के पहले आहार में फल और कच्ची सब्जियां खाएं। जिनका मौसम हो वही खाए।

5. एक दो घन्टे बाद पेट भर के नाश्ता करें। सुबह का नाश्ता ही आपकी पूरे दिन की ऊर्जा के लिये सबसे अधिक ज़रुरी है। दोपहर का भोजन साधारण और रात का भोजन कम से कम करें तो बेहतर होगा। एक पुरानी कहावत है कि सुबह का भोजन राजा जैसा करो, दोपहर का भोजन आम लोगो जैसा और रात का भोजन गरीबों जैसा। यह पेट के

हित में बनाई गई कहावत है।

6. पानी खूब पिए। अकेला पानी ही बहुत सारी बीमारियों से बचाए रखने में कारगर है। लेकिन खाने से एक घन्टा पहले से खाने के एक घन्टे बाद तक पानी न पियें। यह आपके पाचनतंत्र के लिये बहुत हानिकारक होगा।

7. भोजन दांतो से अच्छी तरह चबा चबा कर खाईये। भगवान ने दांत इसीलिये दिये है। ताकि आपकी आंतों पर अतिरिक्त काम का बोझ न पड़े।

8. हफ्ते में एक दिन उपवास रखें। न हो सके तो 15 दिन में या कम से कम महीने में एक तो अवश्य रखें।

From Around the web