क्या आप भी घुटनों के बल सोते हैं? सावधान; इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं

हम अक्सर घुटनों के बल सो जाते हैं। यदि यह स्थिति लंबे समय तक बनी रहती है, तो घुटने के नीचे के पैरों के तलवों में रक्त की आपूर्ति कम हो जाएगी और इससे प्रारंभिक अवस्था में पैरों में झुनझुनी या दर्द हो सकता है। कुछ लोग कुछ देर घुटनों के बल लेटने के बाद
 
क्या आप भी घुटनों के बल सोते हैं? सावधान; इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं

हम अक्सर घुटनों के बल सो जाते हैं। यदि यह स्थिति लंबे समय तक बनी रहती है, तो घुटने के नीचे के पैरों के तलवों में रक्त की आपूर्ति कम हो जाएगी और इससे प्रारंभिक अवस्था में पैरों में झुनझुनी या दर्द हो सकता है।

कुछ लोग कुछ देर घुटनों के बल लेटने के बाद बेहतर महसूस करते हैं। लेकिन बहुत देर तक न लेटें क्योंकि यह अच्छा लगता है। इससे शरीर पर बुरा असर पड़ता है। यदि आप बीमारी को आमंत्रित नहीं करना चाहते हैं, तो आहार, व्यायाम और नींद के तीन स्तंभों का ध्यान रखें। स्वस्थ शरीर के लिए नींद एक दवा की तरह है और इसके लिए अच्छी नींद जरूरी है।

हमारा शरीर लगातार काम कर रहा है, जिसका एक महत्वपूर्ण कार्य रक्त शोधन है। इसके लिए सिर से पैर तक की रक्तवाहिकाएं सोते समय भी काम करती हैं। यदि किसी शारीरिक स्थिति के कारण रक्त प्रवाह सुचारू नहीं होता है तो शुरुआत में थोड़ा मुश्किल होता है और यदि यह नहीं सुधरता है तो यह एक शारीरिक विकार में बदल जाता है।

तकिये पर सोना सबसे अच्छा है। वर्तमान की आदतों से परिचित होना अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। बड़े होने में थोड़ा समय लगता है लेकिन अच्छी आदतें कभी भी अपनाई जा सकती हैं।

From Around the web