मास्क का लगातार इस्तेमाल इस गंभीर बीमारी को न्यौता दे सकता है

कोरोना काल में फेस मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। चेहरे पर मास्क नहीं होने पर प्रशासन द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर कार्रवाई की जा रही है। कोरोना से बचाव के लिए मास्क की जरूरत है। ऐसे में हर कोई मास्क का इस्तेमाल करता नजर आ रहा है। सिर्फ कोरोना ही नहीं, अन्य संक्रामक बीमारियों
 
मास्क का लगातार इस्तेमाल इस गंभीर बीमारी को न्यौता दे सकता है

कोरोना काल में फेस मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। चेहरे पर मास्क नहीं होने पर प्रशासन द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर कार्रवाई की जा रही है।

कोरोना से बचाव के लिए मास्क की जरूरत है। ऐसे में हर कोई मास्क का इस्तेमाल करता नजर आ रहा है। सिर्फ कोरोना ही नहीं, अन्य संक्रामक बीमारियों से भी बचा सकता है मास्क। हालांकि, मास्क का अति प्रयोग भी खतरनाक हो सकता है, चिकित्सा विशेषज्ञ अब कहते हैं।

कोरोना काल में आपके जीवन की सुरक्षा के लिए मास्क अनिवार्य कर दिया गया है। हालांकि, एक तरफ यह स्थिति है, लेकिन दूसरी तरफ, लगातार मास्क का इस्तेमाल खतरनाक हो सकता है। आशी की जानकारी सामने आ रही है.

इससे नागरिकों को भी शर्मिंदगी उठानी पड़ी है। चेहरे पर लगातार मास्क लगाने से फंगल रोगों का आमंत्रण हो सकता है। इसलिए अगर आप अकेले हैं या घर पर हैं, तो बेहतर होगा कि आप मास्क का इस्तेमाल न करें,

ऐसी सलाह अब चिकित्सा विशेषज्ञ दे रहे हैं। साथ ही मास्क के लगातार इस्तेमाल से कई लोगों को सांस की समस्या हो जाती है इसलिए मास्क का इस्तेमाल करते समय सावधानी बरतनी चाहिए।

फंगल रोग हो सकते हैं

लगातार फेस मास्क लगाने से उस जगह पर पसीना आता है। पसीने से फंगल इंफेक्शन के साथ-साथ सांस की अन्य बीमारियां भी हो सकती हैं।

मास्क के लगातार इस्तेमाल से रक्त में ऑक्सीजन की मात्रा कम हो सकती है। त्वचा की खुजली के प्रकार भी बढ़ रहे हैं। डॉक्टरों का यह भी कहना है कि मास्क की जगह पर त्वचा का रंग बदल गया है।

From Around the web