ज्योतिष ओर जन्मकुण्डली, क्या है सच्चाई

अपना भविष्य जानने की तीव्र उत्कंठा रहती है जिसका नतीजा ज्योतिषी है जो सब जगहों पर आपको देखने को मिल जायेंगे कितने सही है ओर कितने ग़लत यह जानने का आपके पास कोई भी तरीक़ा नहीं ना तो सरकार ने कोई इसके बारे में गाइडलाइन जारी कि है ओर ना ही हमलोग समझना चाहते है।ज्योतिष
 
ज्योतिष ओर जन्मकुण्डली, क्या है सच्चाई

अपना भविष्य जानने की तीव्र उत्कंठा रहती है जिसका नतीजा ज्योतिषी है जो सब जगहों पर आपको देखने को मिल जायेंगे कितने सही है ओर कितने ग़लत यह जानने का आपके पास कोई भी तरीक़ा नहीं ना तो सरकार ने कोई इसके बारे में गाइडलाइन जारी कि है ओर ना ही हमलोग समझना चाहते है।ज्योतिष ऐसा ज्ञान है जो केवल पुस्तको से प्राप्त नहीं हो सकता है। जब आप किसी ज्योतिषी के पास अपनी समस्याओं का निराकरण अपनी जन्मकुण्डली दिखाकर दुर करने के लिए कहते है तब आपको प्राय यही सुनने को मिलेगा आपको शनी का पीङा है आपको राहु और केतु की महादशा है।

आपका चन्द्रमा पिङीत है आपको गुरु का दोष है कहने का मतलब यह है कि एक तो आप पहले से ही परेशान है ओर जिसके पास आप अपनी परेशानियों का हल खोजने आईं थी वो आपको ओर परेशान कर देता है। मै यह नहीं कहता अपने ऋषियों द्वारा दिया हुआ ज्ञान गलत है नहीं ज्ञान ग़लत नहीं है उसके सही जानकार कम है। हम लोग टीवी मे देखते है फोन पर समय पूछकर ज्योतिषी आपको आपका भाग्य बताते है। क्या इतना आसान है कि दो मिनट मै आपको भाग्य फल का जानकारी मिल जाएँ।

कोई भी अच्छे ज्ञान का पतन ऐसे ही होता है इन सबसे जितनी दूरी बनाकर रखें उतना ही अच्छा है अपने कर्तव्यो का पालन पुर्ण निष्ठा से करे ओर अपने बुजुर्गो से कुछ सिखने का कोशिश करें। जहां तक हो सके ज्योतिष का बेसिक ज्ञान स्वयं भी रखै कारण अगर आप ऐसे ही सोसल मीडिया मे अपना समय बिता रहे है उससे अच्छा है वहां से कुछ सीखें आजकल ऑनलाइन भी बहुत कुछ सिखने को मिल रहा है। जब आप खुद को बेसिक ज्योतिष का जानकारी होगा तो आप खुद जान सकेंगे कि आप के लिए सही ज्योतिषी कोन है।

From Around the web