जन्माष्टमी में भगवान कृष्ण जी को ऐसे करें प्रसन्न

आज पूरे भारतवर्ष में जन्माष्टमी बड़े धूमधाम से मनाई जाएगी. यह पर्व भाद्रपद माह की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है। जन्माष्टमी के दिन अपनी मनोकामना पूरी कर सकते हैं। इस दिन कुछ उपाय करना आपके लिए अत्यंत शुभ फलदाई होगा। इस दिन भगवान कृष्ण जी को प्रसन्न करने से माता लक्ष्मी भी प्रसन्न हो
 
जन्माष्टमी में भगवान कृष्ण जी को ऐसे करें प्रसन्न

आज पूरे भारतवर्ष में जन्माष्टमी बड़े धूमधाम से मनाई जाएगी. यह पर्व भाद्रपद माह की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है। जन्माष्टमी के दिन अपनी मनोकामना पूरी कर सकते हैं। इस दिन कुछ उपाय करना आपके लिए अत्यंत शुभ फलदाई होगा।

इस दिन भगवान कृष्ण जी को प्रसन्न करने से माता लक्ष्मी भी प्रसन्न हो जाती है। आज हम आपको ऐसे पांच उपाय के बारे में बताएंगे। जिसे जन्माष्टमी के दिन करने से भगवान कृष्ण जल्दी ही प्रसन्न हो जाते हैं और अपने भक्तों की हर मुराद पूरी कर देते हैं।

जन्माष्टमी में भगवान कृष्ण जी को ऐसे करें प्रसन्न
janmashtami 2018 (जन्माष्टमी)

आप धन प्राप्ति के लिए जन्माष्टमी की सुबह स्नान करें एवं राधा कृष्ण मंदिर चले जाएं। और भगवान श्री कृष्ण जी को पीले रंग की माला अर्पित करें।

जैसा कि आप सभी जानते हो भगवान श्रीकृष्ण को विष्णु का अवतार माना गया है। इसलिए जन्माष्टमी के दिन दक्षिणावर्ती शंख में जल भरकर भगवान श्री कृष्ण का अभिषेक करें। ऐसा करने से भगवान श्री कृष्ण के साथ ही माता लक्ष्मी प्रसन्न होती है। और अपार धन प्राप्ति का योग बनता है।

जन्माष्टमी में भगवान कृष्ण जी को ऐसे करें प्रसन्न
janmashtami 2018 (जन्माष्टमी)

जन्माष्टमी के दिन भगवान श्री कृष्ण की कृपा सब पर बनी रहती है। उनकी विशेष कृपा का पाने के लिए सफेद मिठाई, साबूदाने का खीर बनाकर भोग लगाना चाहिए। और मिश्री और तुलसी के पत्ते जरूर डालें। इस उपाय को करने से भगवान श्री कृष्ण आपसे प्रसन्न होंगे।

आपको अपने कार्य क्षेत्र में किसी भी तरह की परेशानी और बाधाओं का सामना करना पड़ रहा है तो, इसके लिए जन्माष्टमी के दिन आप श्री कृष्ण मंदिर में नारियल और 11 बादाम अर्पित करें। और कार्यक्षेत्र की तरक्की के लिए श्री कृष्ण से प्रार्थना करें। आपकी परेशानियां दूर हो जाएंगे।

जन्माष्टमी समय

शास्त्रों के अनुसार भगवान श्री कृष्ण का जन्म भाद्रपद के महीने की अष्टमी तिथि को मध्यरात्रि में रोहिणी नक्षत्र और वृष लग्न में हुआ था। और वही तिथि इस बार 2 सितंबर रविवार को अष्टमी की रात 8:40 से 3 सितंबर को शाम 7:19 तक रहेगी। इसके अलावा वृष लग्न 2 सितंबर को रात्रि 10:00 से 11:57 तक रहेगी। अगर आप इस लग्न में जन्माष्टमी मनाते हैं। अत्यंत शुभ माना जा रहा है और इस तिथि के अनुसार 2 सितंबर को यह मनाई जाएगी।

Tags: Janmashtami, Janmashtami Puja, Janmashtami Puja Vidhi, Janmashtami 2017, Krishna Janmashtami, Krishna Janmashtami 2017, How to Perform Lord Krishna Puja, How to Perform Lord Krishna Puja in Hindi, Janmashtami Puja Muhurat

यदि आपको यह लेख पसन्द आया हो तो ज्यादा से ज्यादा शेयर करें.

और ये भी पढें: 1.26 लाख महीने की सेलरी पाइए-12th,Diploma,ग्रेजुएट्स जल्दी अप्लाइ करे

ये हैं बिल्लियों से जुड़े शगुन और अपशगुन सच्ची मान्यताएं | Billi ka rasta katne ka matlab

सभी ख़बरें अपने मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

From Around the web