व्हूपिंग स्वैन 8200 मीटर तक की ऊँचाई तक उड़ सकती हैं

व्हूपिंग स्वैन सफेद रेंग का सुंदर और आकर्षक पक्षी है। व्हूपिंग स्वैन की लंबाई 140 से 160 सेंटीमीटर होती है और इसका वज़न 8 से 20 किलोग्राम होता है। व्हूपिंग स्वैन उत्तरी यूरोप तथा एशिया में आइसलैंड से लेकर बेरिंग सागर तक उथली झीलों और पोखरों में रहने वाली चीखने चिल्लाने वाली बतखें वास्तव में
 
व्हूपिंग स्वैन 8200 मीटर तक की ऊँचाई तक उड़ सकती हैं

व्हूपिंग स्वैन सफेद रेंग का सुंदर और आकर्षक पक्षी है। व्हूपिंग स्वैन की लंबाई 140 से 160 सेंटीमीटर होती है और इसका वज़न 8 से 20 किलोग्राम होता है। व्हूपिंग स्वैन उत्तरी यूरोप तथा एशिया में आइसलैंड से लेकर बेरिंग सागर तक उथली झीलों और पोखरों में रहने वाली चीखने चिल्लाने वाली बतखें वास्तव में ऐसे पक्षी हैं, जो अत्यधिक प्रतिकूल परिस्थितियों में भी जीवित रहने में सक्षम हैं।

व्हूपिंग स्वैन 8200 मीटर तक की ऊँचाई तक उड़ सकती हैं

कड़ाके की ठंड से बचने के लिए व्हूपिंग स्वैन झुंडों में शीतोष्ण इलाकों में पलायन कर जाती हैं और अपने प्रवास के दौरान व्हूपिंग स्वैन इतनी अधिक ऊँचाई पर उड़ान भरती है कि बहुत से दूसरे पक्षियों के लिए ऐसी विपरीत परिस्थितियों में उड़ान भरना तो दूर की बात, जीवित रह पाना भी मुश्किल होता है। दरअसल ये 8200 मीटर तक की ऊँचाई पर उड़ान भरती हैं। उड़ान भरते हुए पानी पर उतरते समय झुंड के सारे पक्षी एक साथ आवाजें निकालते हैं, जो किसी मधुर गीत के समान ही प्रतीत होती है। इसी कारण बहुत से लोग इसे ‘गाने वाली बत्तख’ भी कहते हैं।

From Around the web