किस्मत बदलकर सुख प्राप्त करना चाहते हैं तो शिवलिंग के पास जरूर बोलें ये मंत्र

कौन है जो सुख की प्राप्ति नही चाहता। हर इंसान की यही ख्वाइश होती है कि वह दुखों से विजय प्राप्त कर जल्द से जल्द सुख के तरफ बढ़ जाए लेकिन क्या सभी लोग इसमें कामयाब हो पाते हैं। ऐसा बिल्कुल भी नही है क्योंकि इसके बहुत से कारण हो सकते हैं। आज हम आपको
 
किस्मत बदलकर सुख प्राप्त करना चाहते हैं तो शिवलिंग के पास जरूर बोलें ये मंत्र

कौन है जो सुख की प्राप्ति नही चाहता। हर इंसान की यही ख्वाइश होती है कि वह दुखों से विजय प्राप्त कर जल्द से जल्द सुख के तरफ बढ़ जाए लेकिन क्या सभी लोग इसमें कामयाब हो पाते हैं। ऐसा बिल्कुल भी नही है क्योंकि इसके बहुत से कारण हो सकते हैं। आज हम आपको एक ऐसे मंत्र के बारे में बताएंगे जो आपकी बन्द किस्मत को खोलने में बहुत ही कारगर मानी जाती है। तो आइये जानते हैं वह कौन सा मंत्र है।

हिन्दू धर्म के अनुसार शिवलिंग को भगवान का ही रुप माना जाता है और ऐसा कहा जाता है कि यहां से कोई कभी खाली हाथ नही जाता। ज्यादातर शिवलिंग की पूजा शावन के माह में ही कि जाती है लेकिन आप इसकी पूजा कभी भी कर सकते हैं।

बहुत से लोग हैं जो पूरी श्रद्धा से शिव जी की पूजा करते हैं लेकिन फिर भी उनकी कोई मनोकामना पूर्ण नही होता और वे निराश हो जाते हैं। आज हम आपको एक ऐसे मंत्र के बारे में बताएंगे जो आपकी सभी मनोकामनाओं को पूरा कर सकता है।

भगवान शिव की पूजा करने के बाद शिवलिंग के पास ही 108 बार गायत्री मंत्र का उच्चारण करें और उसके बाद 51 बार ॐ नम: का शिवाय का जाप करें। ऐसा माना जाता है कि हो व्यक्ति इस मंत्र का उच्चारण करता है उसकी सारी मनोकामनाएं पूरी हो जाती है और वो दरिद्रता से हमेशा के लिए छुटकारा पा लेता है। यदि आप भी गरीबी से मुक्त होना चाहते हैं तो इस उपाय को एक बार करके जरूर देखें।

From Around the web