हनुमान जी की कृपा प्राप्त करनी है तो शनिवार के दिन करें इस विशेष विधि से पूजा

हनुमान जी कलयुग के सबसे प्रभावशाली देव माने जाते हैं. सीता माता ने हनुमान जी की भक्ति से प्रसन्न होकर उन्हें अष्ट सिद्धि और नव निधियों का वरदान दिया था. हनुमान जी को राम जी की विशेष कृपा भी प्राप्त है. ऐसा माना जाता है कि कलयुग में हनुमान जी शीघ्र प्रसन्न होने वाले देवताओं
 
हनुमान जी की कृपा प्राप्त करनी है तो शनिवार के दिन करें इस विशेष विधि से पूजा

हनुमान जी कलयुग के सबसे प्रभावशाली देव माने जाते हैं. सीता माता ने हनुमान जी की भक्ति से प्रसन्न होकर उन्हें अष्ट सिद्धि और नव निधियों का वरदान दिया था. हनुमान जी को राम जी की विशेष कृपा भी प्राप्त है. ऐसा माना जाता है कि कलयुग में हनुमान जी शीघ्र प्रसन्न होने वाले देवताओं में से एक हैं. इनकी उपासना करने से मनुष्य हर तरह के संकट से मुक्ति पा सकता है. हनुमानजी की उपासना के लिए मंगलवार और शनिवार का दिन बहुत अच्छा माना जाता है.

हनुमान जी की पूजा करने से शनि के प्रकोप से भी बचा जा सकता है क्योंकि शनि ने हनुमान जी से कहा था कि जिस घर में आप की पूजा अर्चना होगी और जिस घर के प्रवेश द्वार पर आप की मूर्ति लगी होगी उस घर की तरफ में आंख उठाकर भी नहीं देखूंगा. हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए कुछ पूजा विधियां इस प्रकार है.

मंगलवार के दिन प्रातः काल उठकर स्नान आदि से निवृत होकर घर के मंदिर में आसन लगाकर उस पर बैठ जाएं. हनुमान जी को गंगा जल दूध और स्वच्छ जल से स्नान कराएं कराने के बाद उन्हें सिंदूर कुमकुम रोली पुष्प आदि चीजें अर्पित करें तिल के तेल का दीपक जलाएं नारियल अर्पित करें.

हनुमान जी की पूजा अर्चना करने के बाद 7 बार हनुमान चालीसा का पाठ करें. शनि के दोषों से मुक्ति पाने के लिए हनुमानजी को सिंदूर में चमेली का तेल मिलाकर चोला अवश्य चढ़ाएं. हनुमान जी के 108 नामों का जाप करें.

हनुमान जी राम भगवान के अनन्य भक्तों में से एक है इसलिए हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए पीपल के 11 पत्तों में राम नाम लिखकर उसकी माला बना लें और अपने घर के पास .

स्थित किसी मंदिर में जाकर हनुमान जी को समर्पित करें. इस दिन सुंदरकांड का पाठ करना भी बहुत फलदाई होता है.ऐसा करने से आपको हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त होगी और हनुमान जी का आशीर्वाद सदैव आप पर और आपके परिवार पर बना रहेगा.

From Around the web