गृहणी हैं तो इस बार दिवाली पर अपने घर पर जलाएं इस तेल के दीप,माता लक्ष्मी हो जाएगी तुरंत प्रसन्न

हिंदू शास्त्रों में आज तक कोई पूजा बिना दीप जलाए पूरी नहीं मानी जाती है। दिवाली तो खुद दीपों का त्योहार है। इस दिन दीपों का अपना ही बेहद खास महत्व होता है। दिवाली के त्योहार की कल्पना आप बिना दीपों के नहीं कर सकते। दिवाली हिंदु धर्म समुदाय का सबसे बड़ा और पावन पर्व
 
गृहणी हैं तो इस बार दिवाली पर अपने घर पर जलाएं इस तेल के दीप,माता लक्ष्मी हो जाएगी तुरंत प्रसन्न

हिंदू शास्त्रों में आज तक कोई पूजा बिना दीप जलाए पूरी नहीं मानी जाती है। दिवाली तो खुद दीपों का त्योहार है। इस दिन दीपों का अपना ही बेहद खास महत्व होता है। दिवाली के त्योहार की कल्पना आप बिना दीपों के नहीं कर सकते। दिवाली हिंदु धर्म समुदाय का सबसे बड़ा और पावन पर्व है। इस दिन हर कोई मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं। इसके अलावा ऐसे लेकिन बहुत ही कम ही लोग हैं जो दीपक जलाने के लिए सही दिन और सही तेल का इस्तेमाल करते हैं। अगर आप भी मां लक्ष्मी झट से प्रसन्न करना चाहते हैं तो जाने दीपक जलाने का सही तरीका। विधिवत् किया गया पुजा आपकी सारी मनोकामनाओं को पूरा कर सकता है। आइए दोस्तों जानते हैं कैसे।

अगर आपको लगता है कि भाग्य आपका साथ नहीं दे रहा या दुर्भाग्य पीछा नहीं छोड़ रहा हो तब सरसों के तेल में गेहूं के आटे और गुड़ के पुए बनाकर इसे सात आक के फूल, सिंदूर, आटे का दीपक को अरंडी के पत्तल पर रखकर शनिवार की रात चुपचाप किसी चौराहे पर रख आएं और ध्यान रखें कि आप पीछे मुड़कर न देखें। दोस्तों यह प्रयोजन करने मात्र से आपके नसीब खुल जाएगा और आपके सपने साकार होंगे। यह उपाय आपको दुर्भाग्य से मुक्ति दिलाएगा।

From Around the web