हो सकता है आपको भी मलेरिया ,जानें इसके लक्षण और बचाव का तरीका, देर न करें

मलेरिया एक वैश्विक बीमारी है और भारत में इस बीमारी के कारण हर साल लगभग 2 लाख लोग अपनी जान गंवाते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार, भारत में यह बीमारी हर साल 2 लाख 5 हजार लोगों को होती है। मलेरिया का मुख्य कारण मच्छर का काटना है। रोग एक संक्रमित मच्छर
 
हो सकता है आपको भी मलेरिया ,जानें इसके लक्षण और बचाव का तरीका, देर न करें

मलेरिया एक वैश्विक बीमारी है और भारत में इस बीमारी के कारण हर साल लगभग 2 लाख लोग अपनी जान गंवाते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार, भारत में यह बीमारी हर साल 2 लाख 5 हजार लोगों को होती है। मलेरिया का मुख्य कारण मच्छर का काटना है। रोग एक संक्रमित मच्छर में मौजूद एक परजीवी के कारण होता है। मलेरिया बुखार प्लास्मोडियम विवैक्स नामक मानव वायरस के कारण होता है। एनोफिलीज नामक एक संक्रमित मादा मच्छर के काटने के कारण यह वायरस मानव रक्त में चलता रहता है। आइए हम आपको इसकी रोकने का तरीका और इसके लक्षणों के बारे में बताते हैं। इन लक्षणों के साथ मलेरिया की पहचान करें

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

  • शरीर में कंपकंपी

  • तेज बुखार

  • पूरे शरीर में दर्द

  • पसीना आन

  • सिरदर्द

  • उल्टी होना

हो सकता है आपको भी मलेरिया ,जानें इसके लक्षण और बचाव का तरीका, देर न करें

जानिए इससे बचाव कैसे करें

  • बिना मच्छरदानी के न सोएं। इसके अलावा अपने आसपास साफ-सफाई का भी विशेष ध्यान रखें।

  • शाम को थोड़ा सतर्क रहें। क्योंकि शाम के समय मलेरिया का मच्छर लोगों को ज्यादा शिकार बनाता है।

  • मच्छर भगाने वाली मशीनों का इस्तेमाल करें और घर में ऐसी दवाओं का भी छिड़काव करें, जो मच्छरों को नष्ट करें।

  • घर के ऐसे स्थानों पर जाली लगाना जहां से मच्छर आ सकते हैं। जैसे कि दरवाजे, खिड़की, बालकनी आदि में

  • ऐसे कपड़े चुनें जिनमें आपका शरीर पूरी तरह से ढका हो।

इसके अलावा, आपको ऐसी जगहों पर जाने से बचना चाहिए जहाँ बहुत सारा गंदा पानी इकट्ठा होता है।

From Around the web