क्या है माइग्रेन के लक्षण?, अभी जाने इससे बचने के घरेलू उपाय

सिरदर्द एक आम समस्या है जो तनाव और आराम की कमी के कारण पनपती है। लेकिन अक्सर देखा गया है कि कई लोगों के लिए सिरदर्द की समस्या आम नहीं है और उन्हें असहनीय दर्द से गुजरना पड़ता है। यह समस्या लगातार कई दिनों तक माइग्रेन हो सकती है जिसमें दर्द पूरे सिर में नहीं बल्कि दाई
 
क्या है माइग्रेन के लक्षण?, अभी जाने इससे बचने के घरेलू उपाय

सिरदर्द एक आम समस्या है जो तनाव और आराम की कमी के कारण पनपती है। लेकिन अक्सर देखा गया है कि कई लोगों के लिए सिरदर्द की समस्या आम नहीं है और उन्हें असहनीय दर्द से गुजरना पड़ता है। यह समस्या लगातार कई दिनों तक माइग्रेन हो सकती है जिसमें दर्द पूरे सिर में नहीं बल्कि दाई या बाईं ओर के किसी हिस्से में होता है। ये वृत्त सिर तक ही सीमित नहीं होते हैं और कान और गर्दन में भी होते हैं। ऐसी स्थिति में, आपको माइग्रेन की पहचान करने की आवश्यकता है ताकि उचित उपचार से इस समस्या से छुटकारा मिल सके। आज इस कड़ी में हम माइग्रेन के लक्षण, कारण, बचाव और घरेलू उपचार के बारे में जानकारी लेकर आए हैं।

 माइग्रेन के लक्षण

– लगातार तेजी से सिर का फड़कना।

– सुबह उठते ही सिर पर भारीपन और तेज दर्द महसूस होना।

– उल्टी।

– सिर के एक हिस्से में लगातार दर्द होना।

– आंखों में दर्द और भारीपन महसूस होना।

– रोशनी और आवाज से परेशानी होना।

– दिन के समय भी ऊब जाना।

– अचानक खुशी होती है और कभी-कभी उदासी छा जाती है।

– अच्छी नींद न लेना।

– लगातार पेशाब आना।

माइग्रेन के कारण

– पर्यावरण में बदलाव।

– हार्मोन में बदलाव।

– अत्यधिक चिंता के कारण तनाव में

– शराब और सिगरेट का सेवन।

– अधिक मात्रा में चाय और कॉफी का सेवन।

माइग्रेन से बचाव के तरीके

– पौष्टिक और संतुलित चीजें लें।

– 7-8 घंटे की पूरी नींद लेना आवश्यक है।

– सुबह और शाम लगभग 30 मिनट तक योग और व्यायाम करें।

– सोने से पहले खुली हवा में 15 मिनट टहलें।

– जंक फूड से दूर रहो।

माइग्रेन में आजमाए ये देसी उपाय

रोज सुबह खाली पेट 10 से 12 बादाम खाएं।

– अंगूर का रस दिन में 2 बार पिएं।

– कॉटन की मदद से गाय के देसी घी की 2-3 बूंदें सुबह-शाम नाक में डालें।

– गोभी को ग्राइंडर में पीसें और तैयार पेस्ट को एक सूती कपड़े में बांधकर माथे में बांधें। इसके अलावा, जब पेस्ट सूख जाए, तो तुरंत एक नया पेस्ट बनाएं और इसे टाई। इससे सिरदर्द से राहत मिलेगी।

– नींबू के छिलके का पेस्ट तैयार करके माथे पर बांधने से भी सिरदर्द से राहत मिलती है।

– हरी सब्जियों और फलों का अधिक सेवन करे

– गाजर और पालक का रस बराबर मात्रा में मिलाकर पिएं।

– तुलसी के पत्तों के रस में एक चम्मच शहद मिलाकर खाने से पहले या बाद में लें।

From Around the web