ततैया के काटने पर रामबाण है, ये घरेलु उपाय करें ये काम तुरंत उतर जायेगा जहर, देखें जरुर

ज्यादातर कीड़ो के काटने से ज्यादा दर्द नहीं होता पैर कुछ कीड़े ऐसे होते है जिनके काट खाने से हमें बहुत दर्द होता है। ऐसे ही कुछ कीड़े होते है ततैया, ततैया एक प्रकार का कीट होता है। यह पीला कलर का होता है और मधुमक्की की तरह ही दिखता है डेस्क। अक्सर हमारे साथ
 
ततैया के काटने पर रामबाण है, ये घरेलु उपाय करें ये काम तुरंत उतर जायेगा जहर, देखें जरुर

ज्यादातर कीड़ो के काटने से ज्यादा दर्द नहीं होता पैर कुछ कीड़े ऐसे होते है जिनके काट खाने से हमें बहुत दर्द होता है। ऐसे ही कुछ कीड़े होते है ततैया, ततैया एक प्रकार का कीट होता है। यह पीला कलर का होता है और मधुमक्की की तरह ही दिखता है

ततैया के काटने पर रामबाण है, ये घरेलु उपाय करें ये काम तुरंत उतर जायेगा जहर, देखें जरुर

डेस्क। अक्सर हमारे साथ बहुत बार ऐसा होता है की हम कही बहार हो तब हमे कोई कीड़ा काट जाता है। ज्यादातर कीड़ो के काटने से ज्यादा दर्द नहीं होता पैर कुछ कीड़े ऐसे होते है जिनके काट खाने से हमें बहुत दर्द होता है। ऐसे ही कुछ कीड़े होते है ततैया, ततैया एक प्रकार का कीट होता है। यह पीला कलर का होता है और मधुमक्की की तरह ही दिखता है। ततैया ज्यादातर लोगों के घरों में मडराते रहते है और वहीं पर दीवारों पर छत्ता बना लेते हैं। यदि किसी भी प्रकार से उन्हे छेड़ा गया तो वह तुरंत काट लेते हैं। अगर किसी को ततैया काट ले तो ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है, कुछ घरेलू चीजों का इस्तेमाल करके इसे ठीक किया जा सकता है।

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

ततैया के काटने पर लक्षण:

ततैया के डंक में जहर होता है। जब वह काट लेती है तो उस भाग पर दर्द, जलन और सूजन होने लगती है।ततैया के काटने पर इसका घर पर ही इलाज कैसे करें..

ततैया के काटने का घरेलू इलाज

-ततैया के काटने के बाद जिस जगह पर उसने काटा है वहां पर नीबू का रस लगा दें इससे दर्द और जलन में आराम मिलता है।

-बेकिंग सोडा ततैया के डंक के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक उपचार है। किंग सोडा की क्षारीय प्रकृति डंक को बेअसर करने में मदद करती है। यह दर्द और खुजली से तत्काल राहत प्रदान करता है। समस्‍या होने पर एक चम्‍मच बेकिंग सोडा लेकर उसमें थोड़ा सा पानी मिलाकर पेस्‍ट बना लें। फिर इस पेस्‍ट को प्रभावित हिस्‍से पर 5 से 10 मिनट के लिए लगा लें। दस मिनट के बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें। अगर जरूरत हो तो इस उपाय को कुछ ही घंटों के बाद दोहराये।

-जिस जगह पर ततैया ने काटा है वहां पर आक के पत्ते का दूध मलने से आराम मिलता है।
-जब भी ततैया काट ले तो ज्यादातर सभी को घरों में मिट्टी का तेल उपलब्ध रहता है, बगैर देर किये जिस जगह पर ततैया ने काटा है मिट्टी के तेल को लगा लेना चाहिए। इससे जलन और सूजन दोनों में आराम मिलना स्टार्ट हो जायेगा।

-ततैया के काटने के तुरंत बाद जिस जगह पर डंक लगा है वहां पर लोहे की पत्ती या कोई भी चीज हो उसे रगड़ दें और उसके ऊपर से गीले चूने का रस लगा देंगे तो जहर उतर जायेगा।

 

 

From Around the web