भारत के लोग सबसे ज्यादा हो रहे हैं दिल की बीमारी के शिकार, कहीं आप भी तो खतरे में नहीं है

भारतीय युवाओं का दिल कमजोर हो गया है। अमेरिका की एक हेल्थ रिसर्च जनरल की एक रिपोर्ट के अनुसार भारतीय युवाओं में हार्ट संबंधी बीमारियों के मामले बढ़ते जा रहे हैं। आज से कुछ सालों पहले हार्ट की बीमारी को बुजुर्गों से जोड़कर देखा जाता था। लेकिन आज ऐसा नहीं है। आज भारत का युवा
 
भारत के लोग सबसे ज्यादा हो रहे हैं दिल की बीमारी के शिकार, कहीं आप भी तो खतरे में नहीं है

भारतीय युवाओं का दिल कमजोर हो गया है। अमेरिका की एक हेल्थ रिसर्च जनरल की एक रिपोर्ट के अनुसार भारतीय युवाओं में हार्ट संबंधी बीमारियों के मामले बढ़ते जा रहे हैं। आज से कुछ सालों पहले हार्ट की बीमारी को बुजुर्गों से जोड़कर देखा जाता था। लेकिन आज ऐसा नहीं है। आज भारत का युवा वर्ग भी भारी संख्या में हार्ट संबंधी बीमारियों से ग्रसित है। कम उम्र में हार्ट अटैक के मामले भारत में दिनों-दिन बढ़ते ही जा रहे हैं।

आज से 15 साल पहले यानी साल 2005 में अचानक मृत्यु के कारणों में दिल की बीमारी तीसरे नंबर पर थी। लेकिन साल 2016 में अचानक मृत्यु के कारणों में दिल संबंधी बीमारियां पहले नंबर पर आ गई है। इससे आप समझ ही सकते हैं कि भारतीय लोगों के लिए हार्ट संबंधी बीमारियां कितना बड़ा जान का खतरा बनती जा रही है।

क्यूँ भारतीय युवाओं को घेर रही है हार्ट संबंधी बीमारियां

भारत में हार्ट संबंधी बीमारियां काफी तेजी से बढ़ रही है। इसके सीधे से कारण है लोगों में तनाव, खराब लाइफ़स्टाइल, नशे की लत, कंप्यूटर और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों पर अधिक समय तक काम करना और प्रदूषण भी इसका एक कारण है। ये सब वो कारण है जो भारतीय युवाओं की सेहत पर काफी बुरा असर डाल रहे है खासकर की हार्ट पर।

इस तरह खुद को बचाए हार्ट संबंधी बीमारियों से

भारतीय युवाओं पर काफी कम उम्र में ही हार्ट संबंधी बीमारियों का खतरा मंडरा रहा है। इससे बचने के लिए हमें काफी सचेत और अनुशासित होना पड़ेगा। हमें अपनी जीवनशैली में बदलाव करना होगा। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव हर किसी के जीवन में है लेकिन जितना हो सके हमें इससे बचना होगा। योग, ध्यान और व्यायाम तनाव से बचने का एक बेहतरीन उपाय है।

हमें अपने खानपान पर भी ध्यान देना होगा। अनहेल्दी खाने से बचना होगा। अनहेल्दी खाना हमें स्वाद तो देता है पर हमारी सेहत छीन लेता है। इसलिए जितना हो सके हमें अनहेल्दी खाने से बचना होगा और हेल्दी खाने को अपनाना होगा।

इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के ज्यादा इस्तेमाल से बचना चाहिए। अगर ऐसा संभव ना हो तो इससे होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए योग, ध्यान और व्यायाम का सहारा जरूर लें।। किसी भी तरह की नशे की लत हमारे स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है। अगर आप किसी भी तरह के नशे के आदि है तो जल्दी से उसे छोड़िए।

इस बात का विशेष ध्यान रखें

आजकल हार्टअटैक साइलेंट किलर के रूप में उभरा है। हम समझते है कि हार्टअटैक आने पर सीने में तेज दर्द होता है। अक्सर हम ये भी पढ़ते और सुनते है कि हार्टअटैक आने से पहले शरीर कईं तरह के संकेत देता है। लेकिन आजकल ऐसे मामले काफी ज्यादा मात्रा में देखे जा रहे है जिनमे लोग अचानक ही हार्ट अटैक के शिकार हो रहे है।

ऐसे में जरूरी है कि आप खुद को किसी भी तरह के भ्रम में ना रखें। अगर आप अपने हार्ट या सीने में
किसी भी तरह की असहजता महसूस करते हैं या काफी लंबे समय से महसूस कर रहे हैं तो आपको तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

इससे आप खुद को हार्ट अटैक से बचाएंगे, हार्ट संबंधी बीमारियों से बचाएंगे और सही समय पर उपचार भी पा सकेंगे। इसलिए डॉक्टर के पास जाने में बिल्कुल भी देर ना करें।

From Around the web