मानसून से बढ़ती है मौसमी बीमारियां, स्वस्थ रहने के लिए रखें इन बातों का ध्यान

मानसून का मतलब सुहावना मौसम होता है, लेकिन मानसून वह मौसम होता है जब डेंगू, मलेरिया और कोई भी मौसमी बीमारी बढ़ जाती है और बड़ी संख्या में लोग बीमार पड़ जाते हैं। इस मौसम में खुद को और अपने परिवार को स्वस्थ रखना जरूरी है। यह किसी भी परिवार को तनाव में डाल सकता
 
मानसून से बढ़ती है मौसमी बीमारियां, स्वस्थ रहने के लिए रखें इन बातों का ध्यान

मानसून का मतलब सुहावना मौसम होता है, लेकिन मानसून वह मौसम होता है जब डेंगू, मलेरिया और कोई भी मौसमी बीमारी बढ़ जाती है और बड़ी संख्या में लोग बीमार पड़ जाते हैं। इस मौसम में खुद को और अपने परिवार को स्वस्थ रखना जरूरी है। यह किसी भी परिवार को तनाव में डाल सकता है यदि आपको और आपके परिवार के किसी सदस्य को ऐसे समय में डेंगू जैसी बीमारी हो जाती है, जब पूरे देश में कोरोना महामारी फैल रही है। इसलिए इस मौसम में अपने खान-पान का ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। एक शोध के अनुसार, इस मौसम में हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम होती है जो थोड़ी सी भी लापरवाही करने पर किसी भी बैक्टीरिया को जन्म दे सकती है। जानिए कैसे हम इन बीमारियों से बच सकते हैं।

विटामिन सी का सेवन बढ़ाएं

बरसात के मौसम में कई तरह के वायरस और बैक्टीरिया सक्रिय हो जाते हैं जिससे वायरल फीवर, एलर्जी आदि इस मौसम में किसी को भी आसानी से हो सकते हैं। इसलिए जरूरी है कि हम इस मौसम में विटामिन सी से भरपूर खाद्य पदार्थ अधिक खाएं। उदाहरण के लिए अंकुरित, हरी सब्जी, संतरा आदि।

जंक फूड से रहें दूर

इस मौसम में जितना हो सके घर का बना खाना ही खाएं। जंक फूड या स्ट्रीट फूड पर कई तरह के खतरनाक सूक्ष्मजीव पैदा होते हैं जो हमारे शरीर को विषाक्त कर बीमार कर सकते हैं।

इम्युनिटी का रखें ख्याल

ऐसा आहार लें जो आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करे। जितना हो सके ताजे फल, सब्जियां आदि खाएं।

प्रोबायोटिक्स का प्रयोग करें

दही को अपने आहार में शामिल करें। इसमें मौजूद प्रोबायोटिक्स पेट में अच्छे बैक्टीरिया को स्वस्थ बनाते हैं और हमें कई बीमारियों से बचाते हैं। दक्षिण भारतीय भोजन प्रोबायोटिक्स का अच्छा स्रोत है। इडली, डोसा और किण्वित खाद्य पदार्थ आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे हैं।

उबला भोजन करें

उबले  खाने की प्रक्रिया से भोजन में पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ जाती है। इस भोजन को अपने आहार में शामिल करना आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा होगा।

साफ़ सफाई का रखें ध्यान

इस मौसम में हाइजीन और भी जरूरी है। हालांकि, कोरोना के समय में हमने स्वच्छता के महत्व को समझा और अब यह हमारी आदतों का हिस्सा बन गया है।

मच्छरों से रहें दूर

इस मौसम में जितना हो सके मच्छरों का प्रकोप न बढ़ने दें। सावधान रहें कि घर में या आसपास टूटे बर्तन, गमले आदि में मच्छर न पनपें। अगर मच्छर काट रहे हैं तो मच्छरदानी का प्रयोग करें।

From Around the web