अपने यूरिन के रंग से जाने, अपने स्वास्थय का राज

यूरिन बॉडी के अपशिष्ट उत्पादों को निकालने का एक प्राकृतिक तरीका है। भागदौड़ भरी लाइफ स्टाइल की वजह से इंसान अपनी सेहत खराब कर लेता है, लेकिन क्या आप जानते है यूरिन भी आपकी सेहत के बारे में बहुत कुछ बताता है। इसका सामान्य रंग हल्के पीले से थोड़ा गहरा पीला हो सकता है लेकिन
 
अपने यूरिन के रंग से जाने, अपने स्वास्थय का राज

यूरिन बॉडी के अपशिष्ट उत्पादों को निकालने का एक प्राकृतिक तरीका है। भागदौड़ भरी लाइफ स्टाइल की वजह से इंसान अपनी सेहत खराब कर लेता है, लेकिन क्या आप जानते है यूरिन भी आपकी सेहत के बारे में बहुत कुछ बताता है।

इसका सामान्य रंग हल्के पीले से थोड़ा गहरा पीला हो सकता है लेकिन क्या आपको पता आप यूरिन के रंग से अपने स्वास्थ्य का हाल जान सकते है। अगर नहीं तो आज हम आपको यूरिन के कुछ रंग के बारे में बताने जा रहे है, जिसकी मदद से आप अपनी सेहत का राज जान सकते है –

हल्का पीला : यूरीन का रंग हल्का पीला होने का मतलब आपका स्वस्थ्य बिल्कुल सही है और आपका शरीर ठीक से काम कर रहा है।

पीला : जब शरीर अच्छे से हाइड्रेटेड नहीं करता है तो यूरिन का रंग बदल कर पीला हो जाता है। इससे बचने के लिए तरल पदार्थ अधिक से अधिक मात्रा में लीजिए।

गहरा पीला : आपको बता दें कि दवाईयों के ज्यादा इस्तेमाल की वजह से यूरिन का रंग गहरा हो जाता है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो अपने डॉक्टर से एक बार सलाह जरूर लीजिए, क्योंकि यह लीवर की समस्या भी हो सकती है।

दूधिया सफेद : अगर यूरिन का रंग दूधिया सफेद हो गया है तो यह यूरीन इंफेक्शन या किडनी की पथरी की वजह से भी हो सकता है। ऐसी स्थिति में डॉक्टरों से सलाह जरूर लीजिए।

लाल या गुलाबी : जब आप खाने में कोई लाल रंग का खाना खाते है। तब यूरिन का रंग लाल या गुलाबी रंग में बदलता है। अगर आपने इस रंग के पदार्थ का सेवन नहीं किया। तब भी यूरिन इस रंग का आता है तो ऐसे में यूरीन से रक्त आने का संकेत होता है।

नारंगी : यूरिन की समस्याओं को रोकने के लिए ली गई दवाईयों से यूरिन का रंग नारंगी हो सकता है।

डॉक्टर की सलाह जरूरी :

अपने यूरिन के रंग से जाने, अपने स्वास्थय का राज

अगर आप यूरिन के रंग में बदलाव की वजह नहीं समझ पा रहे है तो अपने डॉक्टर के पास जाकर सलाह लीजिए। इसका सही ढंग से उपचार करवाना चाहिए।

सोर्स : नवयुग सन्देश

From Around the web