इन 4 लक्षणों से पहचानें, आपकी किडनी हो रही है खराब

मूत्र कम मात्रा में होना – अगर आपको पेशाब करने समय यह महसूस होता हैं कि मूत्र कम हो रहा हैं. तो यह भी एक किडनी के ख़राब होने का एक लक्षणों में से प्रमुख हैं. जिसमे व्यक्ति के मूत्र की मात्रा बहुत ही ज्यादा कम होती हैं.यह भी कारण हो सकता हैं कि यूरिन
 
इन 4 लक्षणों से पहचानें, आपकी किडनी हो रही है खराब

मूत्र कम मात्रा में होना –

अगर आपको पेशाब करने समय यह महसूस होता हैं कि मूत्र कम हो रहा हैं. तो यह भी एक किडनी के ख़राब होने का एक लक्षणों में से प्रमुख हैं. जिसमे व्यक्ति के मूत्र की मात्रा बहुत ही ज्यादा कम होती हैं.यह भी कारण हो सकता हैं कि यूरिन इन्फेक्शन का लक्षण हो सकता हैं. लेकिन दोस्तों किसी भी नतीजे पर पहुँचने से पहले एक बार डॉक्टर से जरुर मिल लेना चाहिए.

पैरों तथा एड़ी में सुजन होना –

कुछ लोग के पैरों तथा एड़ी में सुजन हो जाती हैं. लेकिन सुजन होने के बाद भी वे डॉक्टर से नहीं मिलने जाते हैं. एक यह भी कारण हो सकता हैं.किसी भी व्यक्ति को ऐसा कभी भी नहीं करना चाहिए. क्योंकि यह एक किडनी ख़राब होने का कारण हो सकता हैं

शरीर का वेट बढ़ना –

वजन बढ़ने के पीछे कई तरह के कारण होते हैं. हमारा शरीर अचानक से वेट बढ़ने लगता हैं. और साथ ही मोटापा भी होने लगता हैं. तो इसी कारण हैं कि आपके किडनी से जुड़ी कोई बीमारी होने का खतरा होने लगता हैं. अधिक तनाव करने के कारण भी वजन बढ़ने का कारण हो सकता हैं. क्योंकि इसमें कोर्टिसोल का लेवल बढ़ के कारण हो जाता हैं.

एक शोध के अनुसार, यह पता लगा कि कोर्टिसोल का अधिक लेवल तथा फैट मास का एक दुसरे से बहुत ही गहरा सबंध होने के कारण होता हैं. कोर्टिसोल नाम का स्ट्रेस हार्मोन कई प्रकार के परेशानी को उत्पन करने के साथ-साथ हमारे शरीर के वेट को भी बढ़ाने का काम करता हैं.

शरीर का कमजोर या पतला होना –

नियमित रूप से भोजन करने के बाद भी अगर आप खुद को कमजोर या पतला महसूस करते हैं. और साथ ही थकान महसूस करते हैं. तो इस तरह के लक्षण आपके लिए जानलेवा साबित हो सकता हैं. क्योंकि दोस्तों ऐसे लक्षण तभी देखते हैं. जब आपके किडनी से जुड़ी कोई जोखिम भरा समस्या होने का संभावना होती हैं. दोस्तों अगर आपके साथ यह सब समस्या हो रही हैं. तो बिना देर किए हुए डॉक्टर से एक बार जरुर मिलना चाहिए.

कही ऐसा न हो कि आपके शरीर के लिए यह एक बड़ा बीमारी बन जाए. कई लोग तो कमजोरी महसूस होने पर बिन किसी डॉक्टर से मिले ताकत के टॉनिक पीने लगते हैं. जिसके कारण उन्हें कई बार किसी बड़ी समस्या का सामना करना पड़ सकता हैं. इसलिए दोस्तों शरीर में कमजोरी महसूस होने पर बिना देरी के डॉक्टर से मिलना चाहिए.

From Around the web