किडनी (Kidney) के रोग के कारण

आज मैं आपसे वृक्क यानि किडनी के विकारों पर चर्चा करना चाहूँगा. किडनी ये शरीर का अत्यंत महत्वपूर्ण अंग हैं, इसके द्वारा शरीर से मल बाहर निकलता है और शरीर के अन्दर साम्यावस्था बनी रहती है, वृक्क शरीर में दो होते हैं . किडनी के रोगों के कारण आहार में द्रव पदार्थों का अत्यल्प प्रमाण
 
किडनी (Kidney) के रोग के कारण

आज मैं आपसे वृक्क यानि किडनी के विकारों पर चर्चा करना चाहूँगा. किडनी ये शरीर का अत्यंत महत्वपूर्ण अंग हैं, इसके द्वारा शरीर से मल बाहर निकलता है और शरीर के अन्दर साम्यावस्था बनी रहती है, वृक्क शरीर में दो होते हैं .

किडनी के रोगों के कारण

  1. आहार में द्रव पदार्थों का अत्यल्प प्रमाण में सेवन करना अथवा अत्यधिक प्रमाण में सेवन करना
  2. पीने में कठोर जल का प्रयोग करना
  3. मूत्र के वेग को अधिक समय तक रोकना
  4. उच्च रक्त दाब यानि के High Blood Pressure यथोचित उपचार ना होना

किडनी (Kidney) के रोग के कारण

  1. रक्त में कोलेस्ट्रोल की मात्रा अधिक होना ( जिसके कारण किडनी की रक्त वाही धमनियों में रूकावट होकर वहां रक्त का संचार कम हो जाता है , और वहां Ischaemic Renal Failure हो सकता है .
  2. किडनी , मूत्राशय के स्थान पर अघात होना उदहारण , एक्सिडेंट हो जाना
  3. नशीले पदार्थ जैसे तम्बाखू , भांग अफीम इत्यादि के अत्यधिक सेवन से भी किडनी के रोग हो सकते हैं .
  4. मधुमेह के रोगियों को किडनी के बीमारियाँ होने की सम्भावनाये अधिक होती हैं , इन रोगियों को रक्त शर्करा, लिपिड प्रोफाइल और रक्त दाब ( BLOOD PRESSURE) की नियमित जांच करते रहना चाहिए .

From Around the web