किडनी ख़राब होने के बाद शरीर में होते हैं 4 तरह के बदलाव, भूल से भी ना करें अनदेखा

किडनी हमारे शरीर का सबसे ज़रूरी और महत्वपूर्ण अंग होता हैं। लेकिन आज के इस भाग दौड़ के जीवन में गलत लाइफ स्टाइल के कारण इंसान के शरीर में किडनी ख़राब होने की समस्या आम हो गयी हैं। जिसके कारण इंसान बहुत सारी परेशानियों से ग्रषित होता जा रहा हैं।आज इसी संदर्भ में हम आपको
 
किडनी ख़राब होने के बाद शरीर में होते हैं 4 तरह के बदलाव, भूल से भी ना करें अनदेखा

किडनी हमारे शरीर का सबसे ज़रूरी और महत्वपूर्ण अंग होता हैं। लेकिन आज के इस भाग दौड़ के जीवन में गलत लाइफ स्टाइल के कारण इंसान के शरीर में किडनी ख़राब होने की समस्या आम हो गयी हैं। जिसके कारण इंसान बहुत सारी परेशानियों से ग्रषित होता जा रहा हैं।आज इसी संदर्भ में हम आपको शरीर में होने वाले उस बदलाव के बारे में बताएँगे जो किडनी ख़राब होने के बाद होता हैं।

अगर यह बदलाव आपके शरीर में या किसी और के शरीर में दिखता हैं तो उसे तुरंत डॉक्टर के पास ले जाना भूले। तो आइये जानते हैं विस्तार से की किडनी ख़राब होने के बाद शरीर में होते हैं 4 तरह के बदलाव,

भूल से भी ना करें अनदेखा।शरीर में थकान होना, जब इंसान की किडनी ख़राब हो जाती हैं तो उसके शरीर में सबसे ज्यादा थकान महसूस होता हैं। क्यों की किडनी शरीर में हिमोग्लोबिन की मात्रा को संतुलित करता हैं

लेकिन जब ऐसा नहीं हो पाया हैं तो इंसान के शरीर में खून की कमी हो जाती हैं और इसके कारण शरीर में थकान महसूस होने लगती हैं।पेशाब में यूरिन कम आना,

अगर किसी इंसान के शरीर से पेशाब करने के दौरान यूरिन थोड़ा थोड़ा और कम मात्रा में आता हैं तो इसका मतलब आपके शरीर का किडनी ख़राब हो गया हैं।

इसलिए अगर किसी इंसान के साथ ऐसा होता हैं तो उसे तुरंत डॉक्टर के पास जाने चाहियें और डॉक्टर को इस समस्या के बारे में बतानी चाहियें।सूजन होना और वजन बढ़ाना,

किडनी ख़राब हो जाने पर शरीर से विषैले पदार्थ का बाहर निकलना बंध हो जाता हैं। जिसके कारण इंसान का शरीर अचानक से सूज जाते हों और उनका वजन भी बढ़ जाता हैं।

अगर किसी इंसान में अचानक से ये परिवर्तन होता हैं तो ये उनके लिए खतरे की घंटी हैं क्यों की ये किडनी ख़राब होने के संकेत होते हैं भूख कम लगना, इंसान के शरीर में किडनी का मुख काम शरीर से विषैले पदार्थ को बाहर निकालना हैं।

लेकिन जब किडनी ख़राब हो जाती हैं तो शरीर के सारे विषैले पदार्थ इंसान के उतकों में जा कर जमा हो जाते हैं। जिसके कारण इंसान के शरीर में भूख लगने की समस्या उत्पन्न हो जाती हैं और इंसान को भूख लगना कम हो जाता हैं।

From Around the web