पैरो की अनदेखी आपको बुरी तरह पड़ सकती है भारी

पैरो की साफसफाई को नजरअंदाज करना आप को संक्रमण का शिकार बना सकता है जानिए, कैसे रखें पैरो का खयाल… उपाय पैरों की देखभाल करने के 1) पैरो को अच्छी तरह धोएं: पैंरों की त्वचा बैवटीरियल और फंगल संक्रमण के प्रति बहुत अधिक संवेदनशील होती है. हालांकि हम दिन में अधिकतर समय मोजे और जूते
 
पैरो की अनदेखी आपको बुरी तरह पड़ सकती है भारी

पैरो की साफसफाई को नजरअंदाज करना आप को संक्रमण का शिकार बना सकता है जानिए, कैसे रखें पैरो का खयाल…

 उपाय पैरों की देखभाल करने के

1) पैरो को अच्छी तरह धोएं:

पैंरों की त्वचा बैवटीरियल और फंगल संक्रमण के प्रति बहुत अधिक संवेदनशील होती है. हालांकि हम दिन में अधिकतर समय मोजे और जूते पहले होते हैं तो भी पैर इन में मौजूद बैक्टीरिया और फंगम के संपर्क में रहते है। इस के अलाबा पैर फर्श पर जमी धूल और गंदगी के संपर्क में भी रहते है। अगर पैरों को ठीक से धोया और साफ न किया जाए तो पैरें की उंगलियो के बीच की त्वचा बैक्टीरिया और फंगस के संक्रमण के पनपने के लिए आदर्श जगह होती है। इसलिए अपने पैरों को दिन में कम से कम एक बार साबुन से धोना बहुत जरूरी है ताकि उन में जमी गंदनी और पसीना साफ हो जाए।

पैरो की अनदेखी आपको बुरी तरह पड़ सकती है भारी

2) पैरों को रखें सूखा

ऐथलीट्स फुट पैरों का आम फंगल संक्रमण है, जो खुजली, जलन, त्वचा उखड़ने के साथसाथ फफोले भी पैदा कर सकता है। ऐथलीट्स फुट जैसे फंगल संक्रमण के लिए पैरों की नमी एक आदर्श स्थिति है। इसलिए पैरों को धोने के बाद उन्हें सुखाना, विशेषरूप से उंगलियों के बीच की जगह को सुखाना बहुत ही जरूरी है।

3) पैरों को नियमित मौइश्चराइज करें:

सिर्फ चेहरे और हाथों को ही मौइश्चराइज न करें, पैरों पर भी ध्यान दें, क्योकि उन में नमी की कमी होने पर पैरों की त्वचा सूखी,  पपड़ीदार हो सकती है। यहां तक कि फट भी सकती है। पैरों की त्वचा फटने पर विशेषकर एड़ियों की त्वचा फटने पर बेहद शुष्क और कड़ी हो जाती है। उस के बाद यह हिस्सा गंदगी और मैल के लिए चुंबक का काम करता है। फटी एड़ियां देखने में भद्दी ही नहीं लगती है, बल्कि उन में दर्द भी हो सकता है। इसलिए रोजाना  पैरों को धोने के बाद उन पर मौइश्चराइचिंग क्रीम जरूर लगाएं। कोकोआ बटर या पैट्रोलियम जैली अच्छे विकल्प हो सकते हैं।

पैरो की अनदेखी आपको बुरी तरह पड़ सकती है भारी

4) मोजे पहनें :

मोजे धूल, गंदगी से पैरों की रक्षा करते है। यही नहीं ये पराबैगनी विकिरण से भी सुरक्षा प्रदान करते है।

अगर आपको हमारी यह जानकारी पसंद आई तो इस पोस्ट को लाइक करना ना भूलें और अगर आपका कोई सवाल हो तो कमेंट में पूछे हमारी टीम आपके सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेगी। आपका दिन शुभ हो धन्यवाद ।

From Around the web