इसे खा के तो बूढ़ा भी पलंग तोड़ देगा तेंदू के फायदे जानकर चौंक जाओगे आप

 
If you eat it even the old man will break the bed you will be surprised to know the benefits of tendu

1. आँख संबंधी रोगों में: सामान्य आँख में दर्द, रतौंधी, आँख लाल होना आदि सब तरह की समस्याओं में इससे बना घरेलू नुस्ख़ा खूब काम आता है। इसके लिए इस फल के रस को काजल की तरह लगाने से आँख संबंधी रोगों में बहुत फायदा मिलता है।

2. कान के दर्द से राहत दिलाने में: अगर आपके कान में दर्द हो रहा है तो इसके लिए तेंदू फल, हरीतकी, लोध्र, मंजिष्ठा तथा आँवला के 1-3 ग्राम चूर्ण में शहद एवं कपित्थ रस मिलाकर इसे छानकर 1-2 बूंद कान में डालने से दर्द में बहुत लाभ मिलता है।

3. मुँह के छालों में है फायदेमंद: अगर आपके मुँह में बार-बार छाले हो रहे हैं तो इसके लिए तेंदू फल के जूस का गरारा करने से मुँह के छाले में आराम मिलता है तथा इससे गले का घाव भी जल्दी भरता है। इस समस्या को दूर करने के लिए आप इसके फलों का काढ़ा बनाकर गरारा करने से मुंह के छाले दूर हो जाते हैं।

4. खाँसी में: अगर मौसम के बदलाव के कारण आप खांसी से परेशान हो रहे हैं तो तेंदू की छाल की गोलियां बनाकर चूसने से खाँसी से राहत पाने में मदद मिल सकती है।

5. अतिसार या दस्त को रोकने में: 5-10 मिली तेंदू फल के रस में शहद मिलाकर उपयोग करने से अतिसार या दस्त में लाभ मिलता है। इसके आलावा 10-15 मिली तेंदू की छाल के काढ़े को पीने से पेचिश व अतिसार में लाभ होता है या तेंदू फल के गूदे को खिलाने से भी इस समस्या में बहुत लाभ होता है।

6. पथरी के इलाज में: इसके मेडिसिनल गुण मूत्र मार्ग से पथरी निकालने में बहुत ही फायदेमंद होते हैं। इसके पके हुए फल को मरीज को खिलाने से पथरी टूट-टूट कर निकल जाती है।

7. लकवा में: लकवा के कारण यदि किसी व्यक्ति की जीभ हिल नहीं रही है या बोलने की शक्ति अस्पष्ट हो गई है तो इसकी जड़ का काढ़ा बनाकर मरीज को पिलाने से तथा इसकी छाल के 1-2 ग्राम चूर्ण में 1 ग्राम मरिच चूर्ण मिलाकर जीभ में घिसने से बहुत फायदा होता है।

8. चेहरे की खोई रंगत लौटाने में: इसके लिए तेंदू फल को पीसकर चेहरे पर लेप करने से चेहरे की खोई रंगत वापस आ जाती है तथा मुख के रंग तथा कान्ति में वृद्धि होती है।

9. बुखार में फायदेमंद: अगर मौसम के बदलने के कारण या किसी इन्फेक्शन के कारण बुखार आ रहा है तो इसके लिए 10-15 मिली तेंदू की छाल के काढ़े में शहद मिलाकर रोगी को पिलाने से बुखार में लाभ होता है।

10. सूजन में लाभ: अगर किसी चोट या बीमारी के कारण से किसी अंग में हुई सूजन से परेशान हैं तो तेंदू की लकड़ी को घिसकर सूजन वाली जगह पर लगाने से सूजन कम हो जाती है।

If you eat it even the old man will break the bed you will be surprised to know the benefits of tendu

From Around the web