कैसे आप शरीर में खून की मात्रा बढाने के साथ इन बिमारियों से भी बच सकते हो 

एनीमिया से कैसे बचें? आम तौर पर असंतुलित भोजन के असर के कारण भी एनीमिया होता है। एनीमिया के कुछ प्रकारों से बचा नहीं जा सकता क्योंकि वह अनुवांशिक होते हैं। लेकिन मूल रूप से डायट में थोड़ा बदलाव लाने की जरूरत होती है। एनीमिया से बचाव के लिए आपको अपनी जीवन शैली में थोड़ा
 
कैसे आप शरीर में खून की मात्रा बढाने के साथ इन बिमारियों से भी बच सकते हो 

एनीमिया से कैसे बचें?

आम तौर पर असंतुलित भोजन के असर के कारण भी एनीमिया होता है। एनीमिया के कुछ प्रकारों से बचा नहीं जा सकता क्योंकि वह अनुवांशिक होते हैं। लेकिन मूल रूप से डायट में थोड़ा बदलाव लाने की जरूरत होती है। एनीमिया से बचाव के लिए आपको अपनी जीवन शैली में थोड़ा परिवर्तन लाना पड़ेगा। एनीमिया मुख्यत शरीर में खून की कमी से होता है। एनीमिया से बचाव के लिए ऐसे आहार का सेवन करना चाहिए जिससे शरीर में खून की मात्रा बढ़े जैसे चुकंदर, गाजर,अमरुद , पालक, बथुआ और अन्य हरी सब्जियां। काले चने और गुड़ में भी आयरन भरपूर मात्रा में होता है। सब्जी बनाने के लिए लोहे की कड़ाही का इस्तेमाल करें।जैसे-

-एनीमिया के रोगी को भरपूर मात्रा में दूध का सेवन करना चाहिए।

-केला, सेब आदि ताजे फलों का सेवन करना चाहिए।

-सब्जियों में हरी पत्तेदार सब्जियां, चुकंदर, शकरकंद और अनाज को खाने में शामिल करें।

-विटामिन-बी और फॉलिक एसिड को डाईट में शामिल करें।

-किशमिश और सूखे आलू बुखारे भी अपनी डायट में शामिल करें।

-विटामिन-सी आयरन को शरीर से कम नहीं होने देता। इसके लिए आंवला, संतरा, मौसमी जैसी चीजों को सेवन करना चाहिए।

-मूंगफली का मक्खन आयरन युक्त होता है। यदि आपको मूंगफली का मक्खन पसंद ना हो तो आप भुनी हुई मूंगफलियां भी खा सकते हैं।

-साबुत अनाज की रोटी आयरन से युक्त होती है। यह आयरन की कमी को पूरा करने में प्रभावशाली होती है।

-मछली आयरन युक्त होती है और अनीमिया में उपयोगी होती है।

-खजूर आयरन से युक्त होते हैं और एनीमिया से पीड़ित लोगों के लिए लाभदायक होता है।

-चाय और कॉफी का सेवन कम करना चाहिए।

-विटामिन-सी का सेवन ज्यादा करना चाहिए।

-अधिक पानी पीना चाहिए।

जीवनशैली-

-प्रतिदिन योगाभ्यास करने से एनीमिया जैसी बीमारी दूर की जा सकती है। सूर्य नमस्कार, सर्वांगासन, श्वासन और पश्चिमोत्तासन करने से पूरे शरीर में रक्त का फ्लो बढ़ जाता है।

-दिन में दो बार ठंडे पानी से नहाएं।

-सुबह के समय सूरज की रोशनी में बैठें।

रक्त हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है। इसे हीमोग्लोबिन भी कहते हैं। हीमोग्लोबिन की कमी से हमारे शरीर में कमजोरी, थकान, सिर दर्द, चक्कर आना, सांस फूलना और भूख ना लगना जैसी समस्याएं होती है। आज हम आपको एक ऐसे फल के बारे में बताने जा रहे हैं। जो हीमोग्लोबिन की समस्या को दूर करने में बहुत सहायक है। इस फल का सेवन करने से रक्त की समस्या जड़ से दूर हो जाती है।

अमरूद

अमरूद फल मीठा होने के साथ-साथ बहुत सी बीमारियों को दूर करने का काम भी करता है। इसमें बहुत से पोषक तत्व पाए जाते हैं। रोज एक पका अमरूद खाने से खून की समस्या जड़ से दूर हो जाती है। इसके नियमित सेवन से हीमोग्लोबिन की कमी नहीं रहती है। पका अमरूद खून को बढ़ाने में तेजी से काम करता है। अमरूद फल को खाने से कब्ज की समस्या भी दूर हो जाती है।

From Around the web