सिरदर्द व नजला जुकाम जैसी बिमारियों के लिए देसी नुस्खे

सिरदर्द शूलादिवज्र रस की 1-1 गोली सुबह-शाम मिश्री के साथ लेने से सिरदर्द में लाभ होता है। सिसदर्द में गोदन्ती भस्म 450 मि. ग्राम, 1 ग्राम मिश्री एवं 10 ग्राम गाय का घी लेकर सबको मिलाएं, यह मात्रा दिन में तीन बार लेने से लाभ होता है। सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :- सरकारी
 
सिरदर्द व नजला जुकाम जैसी बिमारियों के लिए देसी नुस्खे

सिरदर्द

  • शूलादिवज्र रस की 1-1 गोली सुबह-शाम मिश्री के साथ लेने से सिरदर्द में लाभ होता है।
  • सिसदर्द में गोदन्ती भस्म 450 मि. ग्राम, 1 ग्राम मिश्री एवं 10 ग्राम गाय का घी लेकर सबको मिलाएं, यह मात्रा दिन में तीन बार लेने से लाभ होता है।

    सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

    सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

  • त्रिफला चुर्ण 500 मि. ग्राम को 1 ग्राम मिश्री के साथ मिलाकर रात को सोने से पहले लेने से आराम मिलता है।
  • षड्बिन्दु तेल 5-5 बूंदें नाक में डालने से पुराने सिरदर्द में लाभ होता है।
  • कूठ और अरण्ड की जड़ को पीस कर लेप करने से सिरदर्द में आराम मिलता है।
  • त्रिकटु, पुष्करमूल, रास्त्रा और असगंध के 25 ग्राम चूर्ण का 2 कप पानी में काढ़ा बनाकर नाक मे 2-2 बूंद डालने से सिरदर्द में आराम मिलता है।
  • दालचीनी को पानी में खूब बारीक पीसकर लेप बनाकर सिर पर लगाने से सिरदर्द में फायदा होता है।

आधे सिर का दर्द का उपाय

सिरदर्द व नजला जुकाम जैसी बिमारियों के लिए देसी नुस्खे

मदार या आक के बड़े पत्तों के बीच में पाये जाने वाले दो छोटे-छोटे पत्तें के जोड़े को सूर्योदय से पहले तोड़ें और गुड़ में यह प्रयोग करने से लाभ होगा।
चेतावनी – यदि इस प्रयोग को सूर्य उगने से पहले न किया जाये, तो कोई फायदा न होगा।
  • नित्य भोजन के समय दो चंम्मच शुद्ध शहद लेने से आधा सीसी का दर्द समाप्त हो जाता है।
  • दर्द के समय नाक के नथुनों में 1-1 बूंद शहद डालकर ऊपर को संतूने से आराम मिलता है।
  • दस ग्राम काली मिर्च चबाकर ऊपर से 20-25 गाम देसी घी पीने से आधा सीसी का दर्द दूर हो जाता है।
  • चकबड़ के बीच कांजी में पीसकर सिर पर लेप करने से आराम मिलता है।

नजला, जुकाम पुराना

सिरदर्द व नजला जुकाम जैसी बिमारियों के लिए देसी नुस्खे

  • भुने चने का छिलका उतरा हुआ आटा 20 ग्राम, मलाई या रबड़ी 20 ग्राम, थोड़े शहद में मिलाकर 4 बूंद अमृतधारा असली मिलाकर कुछ दिन रात को खाने से नये पुराने नजले को बहुत लाभ करता  है।
  • गुलबनफशा 4 ग्राम, मुलहठी 4 ग्राम, उन्नाव 5 दाने, मुनक्का 4 दाने, दूस 2 ग्राम। सबको एक गिलास पानी में पकाओ। जब पानी 200 ग्राम रह जाए तो थोड़ी खांड मिलाकर रात को पियें। परहेज खटाई का करें।

साइनस का सिरदर्द

सिरदर्द व नजला जुकाम जैसी बिमारियों के लिए देसी नुस्खे

इलाज – 11 तुलसी की पत्तियां, 11 काली मिर्च, 11 मिश्री के टुकड़े और 2 ग्राम अदरक को 250 ग्राम पानी में उबालें। जब उबलकर आधा रह जाये, तो छानकर सुबह खाली पेट गर्मागर्म पी लें। और करीब दो घंटे तक नहायें नहीं। यह प्रयोग तीन दिन तक करें।

सिरदर्द का घरेलु इलाज

सिरदर्द व नजला जुकाम जैसी बिमारियों के लिए देसी नुस्खे

सोंठ चाय- आधा चम्मच सोंठ का पाउडर 1 कप पानी में मिलाकर पी जाएं, इससे सिरदर्द में तुरंत फायदा हेता है, खासतौर से सिरदर्द अगर हाजमे की गड़बड़ी के कारण हुआ हो।
कैमोमिल ( बबूने का फल ) और कैटनिप की चाय- ये घबराहट के कारण होनेवाले सिरदर्द में बहुत आराम पहुंचाती हैं। इनका प्रभाव हल्का और शांति पंहुचाने वाला होता है। ये दोनों ही नींद लाती हैं और एलर्जी के कारण होने वाले सिरदर्द में भी फायदा करती है। इन दोनों में से किसी भी एक से बनी दिन में तीन कप चाय पीने से दर्द और मतली में आराम पहुंचता है।

From Around the web