काम की खबर: कोरोना के खतरे को कम करेगा कोविड एंटीवायरल पिल!

पिछले डेढ़ साल से पूरी दुनिया में कोरोना का कहर बरपा रहा है. कोरोना के बढ़ते प्रसार को रोकने के लिए दुनिया भर में कोरोना टीकाकरण का जमकर प्रचार किया जा रहा है। कोरोना वैक्सीन से कोरोना संक्रमण और मौत का खतरा कम होता है, इसलिए सरकार ने बार-बार सभी को टीका लगवाने के लिए कहा है। वैज्ञानिकों ने एक कोरोना रोधी गोली विकसित करने में भी सफलता हासिल की है।

 
Good News Covid antiviral pill will reduce the risk of corona

नई दिल्ली, 4 अक्टूबर 2021 पिछले डेढ़ साल से पूरी दुनिया में कोरोना का कहर बरपा रहा है. कोरोना के बढ़ते प्रसार को रोकने के लिए दुनिया भर में कोरोना टीकाकरण का जमकर प्रचार किया जा रहा है। कोरोना वैक्सीन से कोरोना संक्रमण और मौत का खतरा कम होता है, इसलिए सरकार ने बार-बार सभी को टीका लगवाने के लिए कहा है। वैज्ञानिकों ने एक कोरोना रोधी गोली विकसित करने में भी सफलता हासिल की है। कोरोना रोधी गोलियों के क्लिनिकल परीक्षण के अच्छे परिणाम सामने आए हैं। कोरोना से संक्रमित मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत है, और एंटीवायरल गोली उनकी मृत्यु के जोखिम को 50 प्रतिशत तक कम करने में कारगर होने का दावा किया जाता है।

द हिल के मुताबिक, इस पिल के टेस्ट के नतीजों के आधार पर क्लिनिकल ट्रायल के बाद जल्द ही यह दवा बाजार में उपलब्ध होगी। एक अमेरिकी कंपनी, मर्क एंड रिजबैक बायोथेराप्यूटिक्स ने भी कहा है कि वे संयुक्त राज्य के खाद्य एवं औषधि प्रशासन को आपातकालीन उपयोग के लिए एक आवेदन प्रस्तुत करेंगे।


अमेरिकी कंपनियों मर्क और रिजबैक बायोथेराप्यूटिक्स द्वारा विकसित कोरोना रोधी दवा कोविड-19 का भी डेल्टा वायरस पर अच्छा प्रभाव पड़ने की बात कही जा रही है, जिसे अत्यधिक संक्रामक माना जाता है। तो अब कोरोना के बढ़ते प्रसार के बीच नागरिकों को राहत मिली है कि कोविड एंटीवायरल पिल से कोरोना संक्रमण का खतरा और कोरोना से मौत की संभावना कम होगी। 

Good News Covid antiviral pill will reduce the risk of corona

इस बीच, देश में अब तक 90 करोड़ 26 लाख 75 हजार 178 कोरोना प्रिवेंटिव डोज दी जा चुकी हैं। अब तक 65 करोड़ 78 लाख 35 हजार 683 लोगों को वैक्सीन की पहली खुराक और 24 करोड़ 48 लाख 39 हजार 495 लोगों को वैक्सीन की दूसरी खुराक दी जा चुकी है। देश में सबसे ज्यादा टीकाकरण उत्तर प्रदेश में हुआ था। टीकाकरण में महाराष्ट्र दूसरे स्थान पर है।

From Around the web