Diabetes | साइलेंट किलर है डायबिटीज, इन 7 चीजों से प्राकृतिक रूप से नियंत्रित रहेगा ब्लड शुगर

मधुमेह (Diabetes) एक ऐसी बीमारी है जो हमेशा रहती है। मधुमेह के रोगियों को जोखिम से बचने के लिए नियमित रूप से अपने रक्त शर्करा की जांच करने की सलाह दी जाती है। उच्च शर्करा के स्तर से दिल का दौरा, स्ट्रोक, गुर्दे की बीमारी और आंखों की समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है। मधुमेह
 
Diabetes | साइलेंट किलर है डायबिटीज, इन 7 चीजों से प्राकृतिक रूप से नियंत्रित रहेगा ब्लड शुगर

मधुमेह (Diabetes) एक ऐसी बीमारी है जो हमेशा रहती है। मधुमेह के रोगियों को जोखिम से बचने के लिए नियमित रूप से अपने रक्त शर्करा की जांच करने की सलाह दी जाती है। उच्च शर्करा के स्तर से दिल का दौरा, स्ट्रोक, गुर्दे की बीमारी और आंखों की समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है। मधुमेह (Diabetes) को नियंत्रित करने के लिए कुछ प्राकृतिक उपचारों का भी उपयोग किया जा सकता है। चलो पता करते हैं

नीम –

नीम में फ्लेवोनोइड्स, ग्लाइकोसाइड्स और ट्राइटरपीनोइड्स नामक एक रसायन शरीर में ग्लूकोज को बनने नहीं देता है। डॉक्टर्स का कहना है कि नीम के चूर्ण को दो बार पानी के साथ लेने से लाभ होता है। आप इसे चाय के साथ भी मिला सकते हैं।

गाजर –

गाजर में मौजूद चार्टिन और मोमोर्डिसिन रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करते हैं। डॉक्टर्स का कहना है कि सुबह गाजर का जूस पीने से ब्लड शुगर को आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है। आप इसमें आंवला भी मिला सकते हैं।

अदरक –

अदरक का नियमित सेवन इंसुलिन को नियंत्रित करने में मदद करता है।

बैंगन –

बैंगन मधुमेह (Diabetes) पर जादुई फल है। यह ब्लड शुगर को नियंत्रित करता है।
जंबोलिन यौगिक रक्त शर्करा को कम करता है। इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ाता है।
बिगड़ा हुआ उपवास भी ग्लूकोज में सुधार करता है।

मेथी –

मेथी शरीर में ग्लूकोज सहनशीलता में सुधार करती है। इसमें मौजूद घुलनशील फाइबर कार्बोहाइड्रेट के अवशोषण और पाचन को धीमा करके ब्लड शुगर को नियंत्रित करता है।
रोजाना 10 ग्राम मेथी का सेवन करने से मधुमेह की समस्या को कम किया जा सकता है।
आप मेथी पाउडर या पानी उबाल सकते हैं।

दालचीनी –

दालचीनी इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ाती है। शरीर इंसुलिन का बेहतर इस्तेमाल कर सकता है।
डॉक्टर दिन में दो बार 250 मिलीग्राम दालचीनी लेने की सलाह देते हैं।
इसे खाने से पहले लेना फायदेमंद होता है।

जिनसेंग –

यह एक पौधे की जड़ है जो मुख्य रूप से उत्तरी अमेरिका में उगाई जाती है। यह इंसुलिन को बेहतर बनाने में काफी उपयोगी माना जाता है। बैंगनी और मेथी की तरह, यह भी इंसुलिन के लिए शरीर की कोशिकाओं को सक्रिय करता है। डॉक्टर रोजाना 3 ग्राम लेने की सलाह देते हैं। हालांकि ब्लड थिनर लेने वालों को कोई खास फायदा नहीं होता है।

From Around the web