कैंसर के मरीजो के लिए वरदान है यह फल, कीमोथेरेपी से है 100 गुना ज्यादा फायदेमंद

इस फल का नाम है ग्रेवीओला जिसे हम हिंदी भाषा में रामफल भी कहते है | यह फल भारत में बहुत ही कम, विशेषतौर से हैदराबाद में पाया जाता है | इसके अलावा यह फल अफ्रीका, अमेरिका और दक्षिण एशिया में अधिक मात्रा में पाया जाता है |इस फल को डॉक्टर कैंसर के इलाज के
 
कैंसर के मरीजो के लिए वरदान है यह फल, कीमोथेरेपी से है 100 गुना ज्यादा फायदेमंद

इस फल का नाम है ग्रेवीओला जिसे हम हिंदी भाषा में रामफल भी कहते है | यह फल भारत में बहुत ही कम, विशेषतौर से हैदराबाद में पाया जाता है | इसके अलावा यह फल अफ्रीका, अमेरिका और दक्षिण एशिया में अधिक मात्रा में पाया जाता है |इस फल को डॉक्टर कैंसर के इलाज के लिए एक आशा के रूप में देख रहे है , इस फल को कैंसर का प्राकृतिक इलाज बताया जा रहा है क्योकि इसमें वह सभी गुण है

जो कैंसर को ठीक करने के लिए चाहिए |रिसर्च में यह पाया गया है की यह फल कैंसर को ठीक करता है इसलिए इसके पत्ते, पाउडर और कैप्सूल तक मार्किट में बिकने लग गए है | इसके लिए कई परिक्षण किये जा रहे है और जल्दी ही इसको कैंसर का रामबाण इलाज घोषित किया जायेगा क्योकि अभी इसके कुछ टेस्ट और बाकी है | एक बार सभी टेस्ट ख़त्म होने के बाद यह फल परमानेंट रूप से कैंसर के इलाज की औषधि माना जायेगा |

▪ रामफल के लाभ और गुण

• इसका उपयोग कैंसर विरोधी प्रभाव के लिए किया जाता है |

• इसको खाने से पेट के कीड़े ख़त्म हो जाते है |

• हाई ब्लड प्रेशर के ट्रीटमेंट में यह बहुत कारगर है |

• फंगल इन्फेक्शन को यह आसानी से ठीक कर सकता है |

• इसका उपयोग डिप्रेशन और न्यूरॉन सम्बन्धी रोगों के उपचार में किया गया और सकारात्मक रिजल्ट मिले है |

• इस फल का उपयोग करने से कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होता है |

▪ विशेष लाभ

इस फल का रस पेट का कैंसर, फेफड़ो का कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर, ब्रैस्ट कैंसर और अग्नाशय कैंसर की कोशिकाओ को नष्ट कर देता है लेकिन शरीर की बाकी कोशिकाओ को कोई नुकसान नहीं होता है | इस पेड़ की छाल, जड़ और बीज भी लीवर, अस्थमा, दिल के रोग, गठिया आदि रोगों के इलाज में काम आते है |

From Around the web