कैंसर रोग से बचने के लिए क्या करें और क्या नहीं करें

Cancer Remedy बदलते परिवेश के साथ कैंसर एक भयानक रूप लेते जा रही है. अगर आज से 10 साल पहले की बात करें तो कैंसर फैलने की संभावना लाखों में एक को होती थी, वहीं अगर आज की बात करेंगे तो कैंसर होने की संभावना हजारों में एक को हो गई है. यह हम नहीं
 
कैंसर रोग से बचने के लिए क्या करें और क्या नहीं करें

Cancer Remedy बदलते परिवेश के साथ कैंसर एक भयानक रूप लेते जा रही है. अगर आज से 10 साल पहले की बात करें तो कैंसर फैलने की संभावना लाखों में एक को होती थी, वहीं अगर आज की बात करेंगे तो कैंसर होने की संभावना हजारों में एक को हो गई है. यह हम नहीं कह रहे हैं, एक रिसर्च के मुताबिक यह पता चला है. आज हम आपको कुछ ऐसे तरीकों के बारे में बताएंगे जिन्हें दैनिक जीवन में लाने से आप खुद को कैंसर से बचा पाएंगे. किसी भी ऐसे व्यक्ति से शारीरिक संबंध ना बनाएं जो पैपिलॉमा वायरस से प्रभावित है. अगर आप ऐसा करते हैं तो आप भी इस वायरस के संपर्क में आ जाएंगे और आपको कैंसर हो जाएगा.

कैंसर रोग से बचने के लिए क्या करें और क्या नहीं करें

मसालेदार खाने से अच्छा, ज्यादा से ज्यादा हरी पत्तेदार सब्जियां चना और फल खाइए. पत्तेदार सब्जियों और फलों में फाइबर मौजूद होता है जो रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है. यह कई तरह के कैंसर से लड़ने में असरकारक है. हरी पत्तेदार सब्जियों में पत्ता गोभी, पालक, लौकी, टिंडा, गिलकी, परवर आदि का प्रयोग कर सकते हैं. इसके अलावा टमाटर,एवोकाडो, गाजर जैसे फल और सब्जियाँ अपने दैनिक जीवन में खाना शुरू करें.

शक्कर खाने में जितनी मीठी लगती है उतनी ही ज्यादा लोगों को न्योता देती है. एक रिसर्च में यह बात सामने आई है की महिलाओं में कोलोरेक्टल कैंसर की संभावना शक्कर के प्रयोग से बढ़ जाती है, इसलिए अब शक्कर का प्रयोग कम कर दीजिए.

कैंसर रोग से बचने के लिए क्या करें और क्या नहीं करें

आपके खाने का तेल उच्च गुणवत्ता वाला होना चाहिए, सस्ते तेलों का उपयोग ना करें. तेल एक ऐसी भौतिकवादी वस्तु है जो लगभग हर खाने के आइटम में प्रयोग की जाती है, अतः अपने खाने का तेल अच्छी गुणवत्ता वाला उपयोग करें.

सोते समय इलेक्ट्रॉनिक चीजों का प्रयोग कम करें कहने का मतलब यह है कि मोबाइल फोन सोते समय अपनी तकिया के नीचे ना रखें और ना ही चार्जिंग पर लगाएं. क्योंकि मोबाइल फोन से एक तरह का रेडिएशन निकलता है जो आगे चलकर कैंसर को जन्म देता है.

वातावरण में फैल रहे हर तरह के प्रदूषण को कम करने की कोशिश करें. अपने आसपास हरे भरे पौधे लगाएं, तेज ध्वनि का माहौल ना पैदा करें. गंदा पानी खुले में ना फेंके और भी जितने रूप है प्रदूषण के उन्हें करने से बचें.

अच्छी नींद लेना सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है, एक आम व्यक्ति को कम से कम 8 से 10 घंटे सोना चाहिए. अच्छी नींद से शरीर स्वस्थ रहता है और रोगों से लड़ने की शक्ति प्रबल होती है.

धूम्रपान करने से बचें, धूम्रपान सीधे-सीधे कैंसर को न्योता देता है क्योंकि इसका संपर्क हमारे शरीर से सीधा होता है .सिगरेट ,बीड़ी ,तंबाकू ,गुटखा छोड़ दीजिए अन्यथा कैंसर आपको पकड़ लेगा.

रोजाना योग करने की आदत डालें. भारतीय योग इतना शक्तिशाली है इससे ना सिर्फ शरीर और मन को शांति मिलती है बल्कि रोगों से लड़ने की शक्ति भी प्रबल होती है. भारतीय योग को अच्छे तरीके से करने से असाध्य रोग भी मिटने लगते हैं.

नमक का प्रयोग संतुलित मात्रा में करें,ज्यादा नमक खाने से भी पेट का कैंसर बनता है. भोजन में नमक की मात्रा सामान्य रखें और नमक उच्च गुणवत्ता वाला उपयोग करें.

इन सवालों के जवाब देकर जीतें हजारों रुपये

और यह भी देखें: 1.26 लाख महीने की सेलरी पाइए-12th,Diploma,ग्रेजुएट्स जल्दी अप्लाइ करे

विडियो जोन : अक्सर प्यार में इंसान को ये 3 चीजें जरूर मिलती है, प्यार करने वाले यह विडियो जरूर देखें

Latest NEWS Notification मोबाइल में पाने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे सरकारी जॉब्स sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

From Around the web