खून की कमी से बहुत आसान है बचाव, बस जान लीजिए इतना

खून में हीमोग्लोबिन या रेड ब्लड सेल्स की कमी होने को अंग्रेजी में एनिमिया कहते हैं। कई बार ऐसा होता है कि हमारा शरीर रेड ब्लड सेल्स नहीं बना पाता या फिर काफी खून बह जाने के कारण इसकी कमी हो जाती है। एनीमिया को एक तरह की बीमारी भी माना गया है। आईए जानते
 
खून की कमी से बहुत आसान है बचाव, बस जान लीजिए इतना

खून में हीमोग्लोबिन या रेड ब्लड सेल्स की कमी होने को अंग्रेजी में एनिमिया कहते हैं। कई बार ऐसा होता है कि हमारा शरीर रेड ब्लड सेल्स नहीं बना पाता या फिर काफी खून बह जाने के कारण इसकी कमी हो जाती है। एनीमिया को एक तरह की बीमारी भी माना गया है। आईए जानते हैं कुछ खास बातें।

एनीमिया के लक्षण

  • काम करते समय जल्दी थकान होना।
  • पूरे दिन कमजोरी महसूस होना।
  • त्वचा के पीला पड़ना।
  • सांस लेने में तकलीफ होना।
  • काम के दौरान या सीढ़ियां चढ़ते हुए चक्कर आना।
  • सीने और सिर में दर्द होना।
  • तलवे और हथेलियों का ठंडा पड़ना।

खून की कमी का कारण

एनीमिया का सबसे बड़ा प्रमुख कारण शरीर में आयरन की कमी होना है। एक नार्मल व्यक्ति के शरीर में 3 से 5 ग्राम आयरन होता है। शरीर में इसकी कमी होने पर खून कम बनता है और एनीमिया हो जाता है।

एनीमिया से इस तरह करें बचाव

एनीमिया से बचाव के लिए आपको अपनी जीवनशैली में बदलाव लाना होगा। खून की कमी को पूरा करने के लिए ऐसे आहार लें जिनसे शरीर में खून की कमी पूरी हो सके जैसे चकुंदर, गाजर, टमाटर, बथुआ, पालक आदि। इसके अलावा रोजाना सुबह काले चने के साथ गुड़ खाने से एनीमिया जल्द ही खत्म हो जाता है।

From Around the web