रामबाण इलाज़ : खून की कमी दूर करने में मददगार है चने की दाल , जानें कैसे ?

चने की दाल में फाइबर प्रचुर मात्रा में मोजूद होता है। चने की दाल का सेवन करने से कई बीमारियों से राहत मिलती है। फाइबर से भरपूर होने के कारण चने की दाल का सेवन वजन को कम करने में सहायक है। फाइबर की वजह से पेट हमेशा भरा-भरा सा रहता है और भूख कम
 
रामबाण इलाज़ : खून की कमी दूर करने में मददगार है चने की दाल , जानें कैसे ?

चने की दाल में फाइबर प्रचुर मात्रा में मोजूद होता है। चने की दाल का सेवन करने से कई बीमारियों से राहत मिलती है। फाइबर से भरपूर होने के कारण चने की दाल का सेवन वजन को कम करने में सहायक है। फाइबर की वजह से पेट हमेशा भरा-भरा सा रहता है और भूख कम लगती है। ये कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है। जो पाचन तंत्र को ठीक तरह से काम करने में मदद करता है।

रामबाण इलाज़ : खून की कमी दूर करने में मददगार है चने की दाल , जानें कैसे ?

आयरन की कमी होती है पूरी

चने की दाल खाने से आयरन की कमी पूरी करने में मदद मिलती है। इसमें मोजूद फॉस्फोरस और आयरन नई रक्त कोशिकाओं को बनाने में मददगार होते हैं। यह हीमोग्लोबिन के स्तर को भी बढ़ाते हैं जिससे अनीमिया होने की आशंका कम हो जाती है। चने की दाल में मोजूद अमीनो ऐसिड शरीर की कोशिकाओं को मजबूत करने में मददगार हैं।

पीलिया में है फायदेमंद

चने की दाल के सेवन से पीलिया में भी काफी फायदा होता है। यदि पीलिया की बीमारी हो तो चने की 100 ग्राम दाल में दो गिलास पानी डालकर अच्छे से चनों को कुछ घंटों के लिए भिगो लें। अब दाल से पानी को अलग कर लें। फिर इस दाल में 100 ग्राम गुड़ मिला लें। 4 से 5 दिन तक रोगी को इसे देते रहें। इससे पीलिया से कुछ ही दिनों में राहत मिल जाती है।

From Around the web