इन 3 फलों में पाए जाते है सबसे ज्यादा विटामिन ,जाने और आज ही सेवन करें इनका

संतरा के अंदर प्रोटीन, फायबर, व्हिटामिन सी, की मात्रा अधिक पाई जाती है. जो की हमारे शरीर के लिये जरुरी है. इस लिये संत्रे का सेवन काफी अच्छा है. संत्रे में व्हिटामिन ए फोटेल, कैल्शियम, कॉपर, पोटेशियम, थायमिन, व्हिटामिन ई, राइबोफ्लोविन, व्हिटामिन बी 6, पैटोथेनिक एसिड, मॅग्निशियम इन सभी तत्व से भरा हुआ है. 100
 
इन 3 फलों में पाए जाते है सबसे ज्यादा विटामिन ,जाने और आज ही सेवन करें इनका

संतरा  के अंदर प्रोटीन, फायबर, व्हिटामिन सी, की मात्रा अधिक पाई जाती है. जो की हमारे शरीर के लिये जरुरी है. इस लिये संत्रे का सेवन काफी अच्छा है. संत्रे में व्हिटामिन ए फोटेल, कैल्शियम, कॉपर, पोटेशियम, थायमिन, व्हिटामिन ई, राइबोफ्लोविन, व्हिटामिन बी 6, पैटोथेनिक एसिड, मॅग्निशियम इन सभी तत्व से भरा हुआ है. 100 ग्रम संत्रा खाने से 50% केलोरी मिलती है. और शरीर में उर्जा प्राप्त होती है.

सर्दी, जुखाम जैसे रोगो से मुक्ति पाने के लिये एक ग्लास संत्रे का ज्यूस पिने से शरीर में पैदा होने वाले हानिकारक फ्रीरेडीकल्स कम होने लगते है. और शरीर की रोगंप्रतिकार शक्ती बडती है. संत्रे में व्हिटामिन सी की मात्रा जादा है. जो हमारे शरीर के लिये जरुरी है.

मोसंबी में व्हिटामिन सी का प्रमाण जादा है. और कैल्शियम भी बहुत है. जो हमारे शरीर को तंदुरुस्त बनाने के लिये रोगंप्रतिकार शक्ती बढाने के लिये मोसंबी का ज्यूस काफी है. मोसंबी का रस पिने से कहीं रोगोपे इलाज होता है. जैसे मोसंबी का रस कब्ज में लाभदायक है, मोसंबी का रस मधुमेह के लिये लाभदायक है, मोसंबी का रस रोगंप्रतिकार शक्ती बढाने के लिये लाभदायक है, मोसंबी का रस वजन घटाने के लिये लाभदायक है, मोसंबी का रस किल मुहांसे के लिये लाभदायक है, मोसंबी का रस सर्दी, जुखाम के लिये लाभदायक है, मोसंबी का रस गर्भवती महिला के लिये लाभदायक है.

नींबू  में व्हिटामिन सी का प्रमाण सब से जादा होता है. जो हमारे शरीर में पैदा होनेवाले कहीं रोगोपर इलाज किया जा सकता है. जैसे निंबू का ज्यूस बुखार के लिये लाभदायक है, निंबू का ज्यूस अपचन के लिये लाभदायक है, नींबू का ज्यूस दॅातो की देखभाल के लिये लाभदायक है, निंबू का ज्यूस बालोकी देखभाल के लिये लाभदायक है, नींबू का ज्यूस और शहद वजन घटाने के लिये लाभदायक है.

बुखार जैसी समस्या के लिये नींबू एक वरदान है. हमारे शरीर में पसीने को बढाकर बुखार कम कर देता है. नींबू एंटीबॉडी और सफेद रक्त कोशीकाओ के उत्पादन में सहायता करता है. जो शरीर में सुक्ष्मजिवो से लडने में मदत करता है. बुखार के दोरान निंबू डायफोरेसिस की मात्रा को बढाता है. जिसके कारण बुखार कम होता है. इस लिये संत्रा, मोसंबी. नींबू रोज सेवन करना जरुरी है. ताकी हमारे शरीर की रोगंप्रतिकार शक्ती बढाने में मदत मिले.

From Around the web